औरंगाबाद में देव महोत्सव में हंगामा, अक्षरा सिंह के कार्यक्रम के दौरान हुआ पथराव

PATNA : बिहार के औरंगाबाद में मंगलवार की रात को देव सूर्य महोत्सव में जमकर हंगामा हुआ। महोत्सव में मौजूद उग्र दर्शकों ने जमकर तोड़फोड़ कीऔर सैकड़ों कुर्सियां तोड़ दी। देखते ही देखते हंगामा ज्यादा बढ़ गया और पथराव भी होने लगा। इस स्थिति को देखते हुए कार्यक्रम में मौजूद औरंगाबाद के डीएम राहुल रंजन महिवाल कार्यक्रम स्थल से निकल गये। हंगामें को बढ़ता देख कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया।

देव सूर्य महोत्सव में रात के करीब 9 बजे भोजपुरी गायिका अक्षरा सिंह के कार्यक्रम के दौरान भीड़ बेकाबू हो गई। जिसके बाद अचानक उग्र दर्शकों ने पथराव शुरू कर दिया। इस दौरान पंडाल में तोड़फोड़ कर दी गई और दर्शकों ने से सैकड़ों कुर्सियां तोड़ डालीं। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया, जिसके बाद हंगामा और बढ़ गया। भीड़ द्वारा किए जा रहे हंगामे को रोकने के लिए प्रशासन ने मंच से अपील भी की, लेकिन इसका भी कोई असर नहीं हुआ।

Quaint Media

कार्यक्रम में हंगामा जारी रहने पर एसडीओ डॉ.प्रदीप कुमार ने मंच से इस महोत्सव को रद्द किए जाने की घोषणा की और दर्शकों से घर वापस जाने को कहा।लेकिन इसके बाद भी भीड़ पंडाल में जमी रही। कुछ लोग धीरे-धीरे खिसक गए वहीं कई लोगों को पंडाल से बाहर निकाल दिया गया। आयोजन स्थल पूरी तरह पुलिस छावनी में बदल गया और एक व्यक्ति को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इस संबंध में एसपी डॉ सत्यप्रकाश ने बात करते हुए कहा कि मामले की जांच की जा रही है। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है।

Quaint Media

कुछ लोगों द्वारा बताया गया कि जैसे ही मंच पर गायिका अक्षरा सिंह का गाना बजना शुरू हुआ वैसे ही लोगों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। रात 7 बजे अक्षरा सिंह का कार्यक्रम प्रस्तावित था लेकिन वह 8:30 बजे मंच पर आईं। मिली जानकारी के अनुसार पंडाल में उपलब्ध जगह से तीन गुना अधिक भीड़ थी जिसके कारण युवकों ने हंगामा शुरू किया। हंगामें को बढ़ता देख कार्यक्रम रद्द कर दिया गया और भीड़ को खदेड़ कर पंडाल से बाहर कर दिया गया। इस हंगामें के चलते अन्य कलाकारों की प्रस्तुति भी नहीं हो सकी।