अयोध्‍या मामला : नीतीश ने फैसले का किया स्वागत, कहा- अब आगे कोई विवाद न हो

PATNA : अयोध्या मामले पर आज सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला दिया है। इस पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि हम सबको फैसले का सम्मान करना चाहिए। यह देश में प्रेम और सद्भावना के वातावरण के लिए बहुत उपयोगी होगा।

नीतीश कुमार ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला बहुत ही स्पष्ट है। उन्होंने सरकार को कुछ जिम्मेदारी भी दी है। उसे निभाना चाहिये। इस मसले पर आगे विवाद नहीं होना चाहिए। व्यक्तिगत रूप से सभी लोगों से यह हमारा आग्रह है।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में 5 जजों की संविधान पीठ ने शनिवार को अयोध्या केस पर फैसला सुनाया। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने 45 मिनट तक फैसला पढ़ा और कहा कि मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट बनाया जाए और इसकी योजना 3 महीने में तैयार की जाए। कोर्ट ने 2.77 एकड़ की विवादित जमीन रामलला विराजमान को देने का आदेश दिया और कहा कि मुस्लिम पक्ष को मस्जिद निर्माण के लिए 5 एकड़ वैकल्पिक जमीन आवंटित की जाए।

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने कहा कि मीर बाकी ने बाबरी मस्जिद बनवाई थी, लेकिन 1949 में आधी रात में राम की प्रतिमा रखी गई थी। मस्जिद कब बनाई गई इसका वैज्ञानिक साक्ष्य नहीं है। संवैधानिक पीठ ने फैसला सुनाते हुए निर्मोही अखाड़ा और शिया वक्फ बोर्ड का दावा खारिज कर दिया। गौरजलब है कि अयोध्या में रामजन्मभूमि न्यास को विवादित जमीन दी गई है और साथ ही मुस्लिम पक्ष को अलग जगह जमीन देने का आदेश दिया गया है।