बिहार में बढ़ रहा डेंगू का प्रको’प, भागलपुर में सिविल सर्जन समेत 50 सिपाही चपे’ट में आए

PATNA : राज्य में बाढ के बाद से डेंगू का प्रको’प लगातार बढ़ रहा है। भागलपुर में स्वास्थ्य विभाग की कमान थामने वाले सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार सिंह को भी गुरुवार को डेंगू हो गया। साथ ही पुलिस लाइन में 50 से अधिक सिपाहियों को भी डेंगू हो गया है।

पुलिस मेंस एसोसिएशन ने डेंगू से 31 पी’ड़ित सिपाहियों की सूची जारी की है। गुरुवार को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में डेंगू के 13 नए संभावित म’रीज भर्ती हुए। अस्पताल में 200 से ज्यादा बु’खार के मरीजों का इलाज चल रहा है।

अब तक पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में 1200 डेंगू के मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। पीएमसीएच के वायरोलॉजी डिपार्टमेंट की रिपोर्ट के मुताबिक़ इस बार डेंगू के मरीजों का आंकड़ा 1000 पार कर गया है। बीते गुरुवार को एक दिन में 70 से अधिक डेंगू के मरीजों की पुष्टि हुई थी। CM नीतीश कुमार ने कहा कि डेंगू के इलाज के लिए राज्य में उचित व्यवस्था होनी चाहिए। इस मामले में किसी तरह की कोई लापरवाही नहीं होनी चाहिए।

जानने योग्य ये है कि डेंगू होने पर पांच से सात दिन के अंदर मरीज स्वस्थ हो सकते हैं लेकिन इसके लिये सावधानी की जरूरत है। बता दें कि इसके लक्षण पता चलने पर पपीता के पत्ते से बनी तीन-चार टेबलेट हर दिन डॉक्टर की सलाह पर ले सकते हैं। हर दिन प्लेटलेट्स की जांच कराएं। अनावश्यक एंटीबायोटिक दवा नहीं लेनी चाहिये। खाने में हरी सब्जी, दाल, फल का सेवन करें।