एक अप्रैल से बदल जायेंगे कुछ नियम, आम आदमी को मिलेगी बड़ी राहत

PATNA : आज 31 मार्च को 201819 वित्तीय वर्ष का आखिरी दिन है। सोमवार एक अप्रैल से नया वित्तीय वर्ष 2019-20 शुरू हो जाएगा। नए वित्तीय वर्ष के साथ ही आम लोगों का जीवन बहुत बदल जाएगा। इस नए वित्तीय वर्ष में आम लोगों को बड़ी राहत मिलने वाली है। इनकम टैक्स में राहत, EPFO ट्रांसपर में झंझटों से मुक्ति, जीएसटी, रियल इस्टेट, म्युचुअल फंड्स में निवेश और बैंक से जुड़े कई नियमों में परिवर्तन हो जायेंगे। नियमों में परिवर्तनों से आम आदमी के जेब को बड़ी राहत मिलेगी आइये एक नज़र डालते हैं। 

नए वित्तीय वर्ष में 5 लाख तक की आय अब कर मुक्त हो जायेगी। अगर आपकी वार्षिक आय इस दायरे में है तो आपको इनकम टैक्स नहीं देना पड़ेगा। साथ ही सरकार ने स्टैण्डर्ड डिडक्शन को 40 हज़ार से बढ़ा कर 50 हज़ार करने का निर्णय लिया है।  अब टैक्स देने वाले ज्यादा टैक्स बचा पायेंगे। अब से अगर आपके पास दो घर हैं और दुसरे घर में कोई किरायदार नहीं है तो अब से आपको नोशनल रेंट पर टैक्स नहीं देना पड़ेगा।  खाली घर भी आपके घर के अन्दर ही माना जाएगा।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

टीडीएस की सीमा भी बढ़ा दी गई है। ब्याज पर होने वाले आय पर कर में कटौती की गई है। अब ये सीमा 10 हज़ार के बदले 40 हज़ार की होगी। मतलब अब आपको बैंक में डिपोजिट पर 40 हज़ार तक के ब्याज पर कोई टैक्स नहीं लगेगा। बैंक और पोस्ट ऑफिस में मिलने वाले ब्याज पर अब राहत मिलेगी। एक अप्रैल से नए घर पर जीएसटी की दर कम हो जायेगी। अंडर कंस्ट्रक्शन घरों पर अब 12 % की जगह सिर्फ 5 % टैक्स लगेगा। एक अप्रैल से आपका पीएफ अपने आप खाते में खुद ट्रांसफर हो जायेगा। अभी पीएफ ट्रांसफर करने के लिए अलग से आवेदन देना पड़ता है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मुताबिक 31 मार्च तक पैन कार्ड से आधार नंबर को  लिंक करना जरूरी है