केंद्र सरकार बिहार में लगाए राष्ट्रपति शासन, CM नीतीश से नहीं संभल रहा बिहार- जीतन राम मांझी

PATNA: बिहार में बढ़ते अपराध को लेकर हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी ने नीतीश सरकार पर जोरदार हमला बोला है। ‘हम’ प्रमुख मांझी ने केंद्र सरकार से मांग की है कि बिहार में जल्द से जल्द राष्ट्रपति शासन लगाया जाए।

मीडिया से बात करते हुए जीतन राम मांझी ने कहा कि बिहार में बढ़ते अपराध को देखते हुए अब राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए। मांझी ने नीतीश कुमार पर निशाना निशाना साधते हुए कहा कि अब बिहार का शासन नीतीश कुमार से संभल नहीं रहा है। बिहार की बेहतरी के लिये यहाँ राष्ट्रपति शासन बहुत जरूरी हो गया है।

बता दें कि पिछले कुछ महीनों से बिहार में अपराध की खबरों सामने आ रही हैं। इसी को देखते हुए सीएम नीतीश कुमार भी कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिये कई बैठकें कर चुके हैं। मंगलवार को भी नीतीश कुमार ने कानून व्यवस्था को लेकर समीक्षा बैठक की। नीतीश कुमार ने कानून व्यवस्था को लेकर पिछले 20 दिनों के अंदर मंगलवार को दूसरी बार समीक्षा बैठक की। इस बैठक में सीएम नीतीश कुमार अधिकारियों को सख्त लहजे में निर्देश देते नजर आए।

सीएम नीतीश ने बैठक में बढ़ती आपराधिक घटनाओं को लेकर आला अधिकारियों को फटकार भी लगाई। नीतीश कुमार ने साफ़ शब्दों में डीजीपी को निर्देश देते हुए कहा कि अगर SP और DSP अपने थानाध्यक्षो पर नकेल नहीं कस सकते हैं तो वैसे SP और DSP को साइड लाइन कर दिया जाए।

इससे पहले सीएम नीतीश कुमार कानून व्यवस्था को लेकर 7 जून को अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की थी। इस बैठक में गृह सचिव आमिर सबहानी और डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे के साथ राज्य स्तर के कई अधिकारी भी उपस्थित रहे। लगभग तीन घंटे तक चली इस मीटिंग में सीएम ने कई आदेश दिए थे।