कांग्रेस-JMM आए आमने-सामने, मधु कोड़ा की पत्नी के नाम पर सिंहभूम सीट पर संग्राम

PATNA : झारखंड में कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा के बीच तकरार सामने आ रही है। मनपसंद लोकसभा सीटों को लेकर झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस आमने-सामने आ गई हैं। जहाँ एक तरफ इन दोनों दलों के बीच गठबंधन की चर्चा हो रही थी वहीं अब विवाद की खबर सामने आई है। विवाद सिंहभूम लोकसभा सीट को लेकर बढ़ा है।

मनपसंद लोकसभा सीट को लेकर कांग्रेस और जेएमएम के नेता और विधायक अपनी-अपनी राजनीतिक जमीन के लिए संघर्ष कर रहे हैं। बता दें कि सिंहभूम लोकसभा सीट पर जेएमएम के विधायकों के बाद अब जिला कमेटी ने भी इस सीट पर अपनी दावेदारी पेश करते हुए जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन को अपना फैसला सुना दिया है। बताया जा रहा है कि जेएमएम जिला कमेटी किसी भी कीमत पर सिंहभूम लोकसभा सीट से समझौता करने को तैयार नहीं है।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

वहीँ सिंहभूम लोकसभा सीट पर कांग्रेस पार्टी पूर्व सीएम मधु कोड़ा की जगन्नाथपुर से विधायक पत्नी गीता कोड़ा को उम्मीदवार बनाना चाहती है, जबकि कोल्हान में झामुमो का स्थानीय संगठन सिंहभूम सीट से झामुमो का प्रत्याशी उतारने की जिद पर अड़ा है। जेएमएम की जिला कमेटी की बैठक में मनोहरपुर की विधायक जोबा मांझी ने कांग्रेस पार्टी पर एक तरफ निशाना साधा है वहीँ जोबा मांझी ने जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन को नसीहत देते हुए कहा कि अगर सिंहभूम लोकसभा सीट से जेएमएम का उम्मीदवार नहीं उतारा गया तो हेमंत सोरेन का मुख्यमंत्री बनने का सपना भी खत्म हो जाएगा।

विधायक  जोबा ने कहा कि कांग्रेस 2019 में किसी भी कीमत पर जेएमएम के विधायकों को जीतने नहीं देगी और कोल्हान से जेएमएम का पूरा सफाया हो जाएगा। जोबा मांझी ने कहा कि कांग्रेस सीधी लाठी नहीं मार रही, बल्कि मीठी जहर देकर हमको खत्म करना चाहती है। अब आगे देखना होगा कि कौन सी पार्टी इस लोकसभा सीट से अपना त्याग करती है।