जस्टिस राकेश कुमार बोले- कभी किसी के दबाव में नहीं आऊंगा, अब भी अपनी बात पर कायम हूँ

PATNA : पटना उच्च न्यायालय के न्यायाधीश राकेश कुमार ने एक बार फिर से अपनी बात दोहराई है। उन्होंने कहा कि मैं कभी भी दबाव में नहीं आऊंगा। मैंने जो कहा है वो सबकुछ सच है और मैं अपनी बात पर कायम हूँ। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि न्यायाधीश बनते समय जो शपथ ली थी, उसी के अनुसार फैसला दिया है। भ्र’ष्टाचार को बर्दा’श्त नहीं किया जा सकता है।

आपको बता दें कि पटना हाई कोर्ट के वरिष्ठ न्यायाधीश राकेश कुमार ने वरिष्ठ जजों और हाईकोर्ट प्रशासन की कार्यप्रणाली पर स’वाल उठाया था और बड़ा आ’रोप लगाते हुए कहा था कि राज्य की निचली अदालतों के भ्र’ष्टाचार को संरक्षण दिया जा रहा है। उन्होंने आ’रोप लगाया था कि जिस अधिकारी को भ्र’ष्टाचार के मामले में बर्खा’स्त होना चाहिए, उस अधिकारी को मामूली सी स’जा देकर छोड़ दिया जा रहा है। इसके चलते जस्टिस राकेश कुमार के सभी के’सों की सुनवाई पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गयी है। पटना हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने नोटिस जारी कर कहा है कि जस्टिस राकेश कुमार किसी भी के’स की सुनवाई नहीं कर सकेंगे।

आपको बता दें कि ये आ’रोप लगाने के बाद जस्टिस राकेश कुमार से के’स की सभी फ़ाइलें वापस ले ली गई हैं। जस्टिस राकेश कुमार पर अवमा’नना का के’स भी चल सकता है। उन्होंने पूर्व आइ’एएस अधिकारी केपी रमैया को जमा’नत दिये जाने के मामले में नारा’जगी जाहिर करते हुए बिना किसी का नाम लिये कहा था कि मेरे सहयोगी जजों ने भी मेरे द्वारा भ्र’ष्टाचार के खिलाफ उठाई गयी आवाज को दरकिनार कर दिया है।