न्यायाधीश रवि रंजन होंगे झारखंड हाईकोर्ट के नये चीफ जस्टिस, राष्ट्रपति ने दी मंजूरी

RANCHI : राष्ट्रपति ने न्यायाधीश रवि रंजन को झारखंड के नये मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्त करने की सिफारिश को मंजूरी दे दी है। केंद्र सरकार ने इस सिलसिले में अधिसूचना जारी कर अनुमति के लिए राष्ट्रपति के पास भेजा था। जिसके बाद राष्ट्रपति ने जस्टिस डॉ. रवि रंजन को झारखंड हाईकोर्ट का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया है।

न्यायाधीश डॉ. रवि रंजन मौजूदा समय में पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट के न्यायाधीश के रूप में कार्य कर रहे हैं।

राष्ट्रपति कार्यालय के द्वारा इस सिलसिले में जारी वारंट हाईकोर्ट पहुंचने के बाद राज्यपाल से मिलकर मुख्य न्यायाधीश के शपथ ग्रहण के लिए तारीख निर्धारित की जाएगी। आपको बता दें कि रवि रंजन बिहार के रहने वाले हैं। रवि रंजन ने वर्ष 1989 में पटना विश्वविद्यालय से लॉ की डिग्री हासिल की। 4 दिसंबर 1990 को उन्होंने पटना हाईकोर्ट में प्रैक्टिस शुरू की और 1997 में वे पटना हाईकोर्ट में केंद्र सरकार के स्टैंडिंग काउंसिल नियुक्त किए गए।

वर्ष 2004 में सीनियर स्टैंडिंग काउंसिल बने। 14 जुलाई 2008 को वे पटना हाईकोर्ट के अपर न्यायाधीश नियुक्त किए गए। साथ ही उन्हें 16 जनवरी 2010 को उन्हें स्थाई जज के रूप में नियुक्त किया गया था। डॉ. रवि रंजन संवैधानिक, सिविल, राजस्व, सर्विस और अपराधिक मामले के विशेषज्ञ माने जाते हैं। उन्होंने पटना विश्वविद्यालय से जियोलॉजी में पीएचडी की है।