बालीवुड में बज रहा बिहार की बेटी ज्योति झा का डंका, हिट रहा सीरियल विघ्नहर्ता गणेश का टाइटल सांग्स

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar, Live India

PATNA : दृढ़ निश्चय के साथ प्रयास करते रहने पर सफलता जरूर मिलती है। यह राइटर सह लिरिसिस्ट ज्योति झा(JYOTI JHA) का कहना है। ज्योति को बचपन से ही भजन, कहानियां, कविताएं लिखने का शौक था। पढ़ाई लिखाई में मेधावी भी थी। लेकिन गांव में उस तरह की पढ़ाई का माहौल नहीं था। घर में भाई बहनों के बीच पढ़ाई का माहौल था। कठिन परिश्रम करके ज्योति का चयन कटिहार के नवोदय विद्यालय में हुआ। नवोदय विद्यालय से पास आउट कर दिल्ली में अपनी बुआ के पास रहकर पढ़ाई करने लगी।

ज्योति कहती है हमेशा से लिखने में रुचि थी पर राइटिंग को करियर बनाना आसान नहीं था। वह दिल्ली में ही अपनी बुआ के घर किस्से, कहानियां, कविताएं यहां तक की भजन अपनी डायरी में लिखती और कभी अकेले में तो कभी अपने भाई बहनों के साथ शेयर करती थी। ज्योति ने मास कम्युनिकेशन कोर्स करने की सोची। उसे डर था कहीं घर वाले मना ना कर दे, लेकिन घर वालों ने किसी तरह की आपत्ति नहीं जताई और हर सहयोग किया। फिर दिल्ली में ही कई छोटे-बड़े मैगजीन के लिए लिखना शुरू किया। उसके लिए इतना काफी नहीं था वह बहुत बड़ा सोचने लगी। उनका लक्ष्य बड़ा था। उनकी लिखी हुई बात केवल भाई बहन और रिश्तेदार नहीं बल्कि पूरा देश सुने वह ऐसा सोचती थी।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar, Live India
2018 में मिला ज्योति को ब्रेक : ज्योति 2015 में मुंबई चली गई। वहां प्राइवेट नौकरी ज्वाइन कर ली, साथ ही मीडिया एंड एडवरटाइजिंग से एमबीए का कोर्स कर लिया। ज्योति को 2018 में ही पहला ब्रेक सोनी टीवी के सीरियल विघ्नहर्ता गणेश में मिला। उसके लिए ज्योति ने खुद लिखकर टाइटल सॉन्ग गाया। वहीं से उसकी पहचान बनने लगी। इसके बाद साउथ के चैनल में जय हनुमान, कलर्स में केसरी नंदन के लिए टाइटल सॉन्ग भी लिखी।

युवाओं के लिए प्रेरणा : ज्योति झा मूल रूप से रहने वाली जिले के कदवा प्रखंड की है। उनके पिता कमल आनंद झा सेवानिवृत शिक्षक हैं। जबकि मां भारती झा कुशल गृहणी के साथ संगीत के क्षेत्र में रुचि रखते हुए आकाशवाणी भागलपुर और पटना में भी अपनी आवाज की जादू बिखेर चुकी है। ज्योति से छोटा तीन भाई और एक बहन है।