जिस बच्ची को PM ने आयुष्मान बेबी कहा था,उसका ही इलाज नहीं हो पाया तो लाखों गरीबों का क्या होगा

New Delhi: kanhaiya Kumar ने ट्वीट कर पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि- जिस बच्ची को पीएम ने ‘आयुष्मान बेबी’ कहा था, जब उसका भी इलाज नहीं हो पा रहा है, तब उन लाखों गरीबों का क्या होगा जिन्हें अस्पतालों से लौटा दिया जाता है? जब विकास को केवल फर्जी आंकड़ों से ही पैदा करने की नीयत हो तभी देश में ऐसे हालात पैदा होते हैं। 

kanhaiya Kumar  ने Pm Modi के आयुष्मान भारत स्वास्थ्य योजना को फर्जी बताया है। kanhaiya Kumar का कहना है कि आयुष्मान भारत योजना की पहली लाभार्थी करिश्मा ही पिछले 15 दिन से इलाज के लिए भटक रही हैं। अब जब आयुष्मान बेबी ही इलाज के लिए भटक रही है, तो लाखों गरीबों के इलाज के बारे में सोचना भी मुश्किल है।

करिश्मा के पिता अमित ने मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों को आयुष्मान योजना का कार्ड भी दिखाया। इतना ही नहीं पिता अमित ने बेटी के नाम देश के पीएम का वो बधाई मैसेज भी दिखाया जो पीएम ने करिश्मा को आयुष्मान बेबी बताया था।  15 अगस्त 2018 को करिश्मा ने जन्म लिया था।  करिश्मा का जन्म एक मेडिकल कॉलेज में हुआ था।

राबड़ी देवी का तंज- अपन माथा नोचला से कौनो फाईदा नईखे नीतीश जी,जनता तोहार सब सच्चाई जान गईल बा

उसी वक्त पीएम मोदी ने आयुष्मान भारत स्वास्थ्य योजना की शुरूआत की थी।  करिश्मा वो पहली बच्ची थी जिसे आयुष्मान भारत योजना का सबसे पहले फायदा मिला था।  पिता ने बताया कि 15 दिन से उनकी बेटी को बुखार आ रहा है। कभी उसका बुखार ठीक हो जाता है या फिर कभी और तेज हो जाता है। जब करिश्मा की तबियत सही नहीं हुई तो मैं उसे मेडिकल कॉलेज ले आया।  लेकिन यहां डॉक्टर्स एक कमरे से दूसरे कमरे के चक्कर कटवा रहे हैं।