जनता की विभिन्न समस्याओं को लेकर सड़कों पर करेंगे आंदोलन- उपेंद्र कुशवाहा

PATNA: बिहार में विधानसभा के मानसून सत्र में आरजेडी और कांग्रेस पार्टी के विधायकों द्वारा नीतेश सरकार अपर जमकर निशाना साधा जा रहा है। वहीँ अब राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने भी सरकार को घेरने की रणनीति बनाई है।

उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी रालोसपा लोकसभा और राज्य विधानमंडल के दोनों सदनों में प्रतिनिधित्व से वंचित हो चुकी है। जिसके चलते अब उपेंद्र कुशवाहा आने रणनीति बनाई है कि वह जनता की समस्याओं के लिए सड़कों पर उतरकर आंदोलन करेंगे। रविवार को रालोसपा की बैठक में पार्टी को जमीनी स्तर पर मजबूत बनाने के लिए रणनीति बनाई गई। वहीँ पार्टी ने अगले विधानसभा चुनाव के लिए विचार-विमर्श का सिलसिला अभी से शुरू कर दिया है।

UPENDRA KUSHVAHA

इस दौरान रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि हमारी पार्टी भले ही सदन में अपनी आवाज नहीं उठा पा रही हो लेकिन विपक्ष की जिम्मेदारी निभाते हुए हम जनता की विभिन्न समस्याओं को लेकर सड़कों पर आंदोलन करेंगे। उपेंद्र कुशवाहा ने चमकी बुखार को लेकर निकली पदयात्रा के बारे में बताते हुए कहा कि अभी पिछले दिनों ही मैंने एईएस से हो रही बच्चों की मौत पर सरकार द्वारा बरती जा रही उदासीनता के खिलाफ मुजफ्फरपुर से पटना तक पैदल मार्च किया था।

राज्य में सबसे बड़े विपक्षी दल आरजेडी की कमजोर स्थिति को देखते हुए कहीं न कहीं उपेंद्र कुशवाहा ने रालोसपा को और मजबूत करने की तैयारी कर ली है। इसके लिए रालोसपा द्वारा सदस्यता अभियान की भी शुरुआत की जाएगी। उपेंद्र कुशवाहा ने बताया कि अगले महीने से वह जिलों का दौरा भी करेंगे।