लालू ने नीतीश को छोटा भाई बोलकर कसे ताने, कहा-तीर का पर्याय है अन्याय

PATNA:  इस समय बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव (LALU PRASAD YADAV) जेल में बैठकर भी खूब सुर्खियां बटोर रहे हैं।लोकसभा चुनाव 2019 के अंतिम चरण से पहले लालू यादव ने फेसबुक पोस्ट के ज़रिये नीतीश कुमार (NITISH KUMAR) पर हमला बोला है और ट्वीट कजके माध्यम से भी उन्हें जनता की पीठ में छुरा घोंपने वाला बताया है।

लालू ने कहा , “सावधान बिहार, तीर है घातक हथियार” । लालू ने बताया कि नीतीश को आजकल उजालों से ज़्यादा ही नफरत हो रही है। वे लालटेन का जाप करते रहते हैं। दरअसल लालटेन राष्ट्रीय जनता दल (RJD) का प्रतीक है, इसलिए लालू लालटेन की तुलना मोहब्बत और भाईचारे से कर रहे हैं।  जबकि नीतीश की पार्टी का चुनाव चिन्ह तीर है तो लालू उसे मार-काट व हिंसा का प्रतीक बता रहे हैं।

लालू यादव ने  बिहार की परिस्थितिओं को बताते हुए  कहा कि जनता को प्रकाश की आवश्यकता है और हम लालटेन के प्रकाश से देश के अंधेरे को मिटाने का निरंतर प्रयत्न कर रहे हैं। लालू ने नितीश को ललकारते हुए कहा की उन्हें अवसर देखकर समझौता करने की पुरानी आदत है। लालू यादव ने अपने सैद्धांतिक उसूलों से काफी सारी बातों का मिश्रण करके नीतीश को कई तंज कसे हैं।

लालू यादव ने नीतीश की पार्टी के चुनाव चिन्ह तीर  को नकारते हुए बोला कि तीर का ज़माना अब लद गया क्योंकि 11 करोड़ ग़रीब जनता की पीठ में तुमने विश्वासघाती तीर ही ऐसे घोंपे है ।