लालू यादव को देवघर कोषागार मामले में मिली ज़मा’नत,लेकिन जेल से नहीं मिलेगा छुटकारा

RANCHI : आज लालू यादव को झारखंड उच्च न्यायालय से चारा घोटाले के एक मामले में ज़मा’नत मिल गयी है। इस ज़मानत के बावजूद लालू यादव को फिलहाल जे’ल में ही रहना पड़ेगा क्योंकि वो अन्य कई मामलों में स’ज़ायाफ्ता हैं। लालू को ये ज़मा’नत न्यायाधीश अपरेश कुमार सिंह की पीठ ने दी है। अदालत ने उन्हें आधी स’जा पूरी कर लेने के आधार पर ये ज़मा’नत दी है। इसके बावजूद लालू यादव को फिलहाल जे’ल से छुटकारा नहीं मिलेगा।

अदालत ने लालू यादव पर पांच लाख का जुर्मा’ना भी लगाया है। आपको बता दें कि लालू यादव को चारा घो’टाले में कई अन्य मामलों में भी स’जा हो चुकी है। लालू दुमका और चाईबासा केस में भी स’जा काट रहे हैं। उन पर इन सभी मामलों में आरोप साबित हो चुके हैं। लालू यादव को सीबीआई की अदालत ने देवघर कोषागार मामले तीन साल की स’जा सुनाई थी जिसमे वो तकरीबन आधी सजा काट चुके हैं।  लालू यादव के वकील ने कहा कि हम लोग अन्य केसों में ज़मानत के लिए तय समय पर याचिका दाखिल करेंगे।

कई बार ख़ारिज हो चुकी थी लालू की जमानत याचिका-

गौरतलब है कि लालू यादव ने कई बार कोर्ट में जमा’नत याचिका दाखिल की थी। पहले भी रांची हाई कोर्ट से लालू यादव की जमा’नत याचिका खारिज हो चुकी थी। रांची हाई कोर्ट ने उनके अप’राधों को गंभीर अपराध बताते हुए उनके दलीलों को खारिज कर दिया था। जिसके बाद लालू यादव ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। वहां भी लालू यादव को निराशा ही हाथ लगी थी।23 दिसम्बर 2017 से लालू यादव जेल में हैं। आज के इस केस में ज़मानत मिलने से लालू के लिए आगे का रास्ता साफ़ हो सकता है।