शहीद का पार्थिव शरीर था तिरंगे में लिपटा हुआ और मंत्री ‘रंगारंग नृत्य’ का आनंद ले रहे थे-लालू यादव

PATNA : राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने रविवार को एनडीए की संकल्प रैली को लेकर जोरदार हमला बोला है। लालू यादव ने पीएम मोदी और सीएम नीतीश कुमार पर शहीदों को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया है।

आरजेडी प्रमुख और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया है। इस पोस्ट में लालू यादव ने एक वीडियो लोगों के साथ शेयर किया है। वीडियो एनडीए की संकल्प रैली के एक दिन पहले की है। लालू यादव ने डांस वीडियो के माध्यम से एनडीए पर हमला बोला है। लालू यादव ने आरोप लगाया है कि एनडीए शहादत को भुनाने वाली राजनीति कर रही है। लालू यादव ने कहा है कि जब एक तरफ शहीद का पार्थिव शरीर रखा हुआ था, वहीँ दूसरी तरफ एनडीए की पटना में आयोजित रैली से ठीक पहले वाली शाम ‘गरमा गरम’ कार्यक्रम का आयोजन कराया गया।

लालू प्रसाद यादव ने सोशल साइट फेसबुक पर एक वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा है कि “एक तरफ तिरंगे में लिपटे मां भारती के वीर शहीद सपूतों के पार्थिव शरीर रखे हुए थे तो दूसरी तरफ उनकी शहादत को भुनाने वाली राजनीति के लिए पटना में आयोजित रैली से पूर्व संध्या पर नीतीश और मोदी के मंत्री गरमा-गरम कार्यक्रम में रंगारंग नृत्य का आनंद ले रहे थे, इनको शर्म भी नहीं आती है।”

सोशल मीडिया पर पहले ही शहीद का अपमान करने को लेकर नीतीश सरकार की काफी आलोचना हो चुकी है। अब इस वीडियो ने सीएम नीतीश कुमार की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। शहीद पिंटू कुमार सिंह के अंतिम संस्कार में सरकार की तरफ से कोई मंत्री न जाने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने नीतीश सरकार पर जमकर निशाना साधा जिसके बाद सरकार ने अपने एक मंत्री को देर रात शहीद के परिजन से मिलने के लिए भेजा था। वहीँ जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने भी सरकार की गलती मानते हुए मांफी मांगी है।
Die für die jeweilige teilprüfung spezifischen voraussetzungen gemäß anhang masterarbeit ghostwriter erfüllt.