बच्चों की मौ’त पर जितना परिवार वाले दुखी, उतने ही दुखी नेता भी हैं- LJP सांसद वीणा देवी

PATNA: लोक जनशक्ति पार्टी की वैशाली से सांसद वीणा देवी ने कहा कि धीरे-धीरे चमकी बुखार से हो रही बच्चों की मौ’तों की संख्या में कमी आ रही है। आगे उन्होंने कहा कि बिहार सरकार और नीतीश कुमार इस बीमारी से निपटने के लिए लगातार प्रयासरत हैं। इतना ही नहीं, मैंने अपने लोकसभा क्षेत्र का दौरा भी किया है और लोगों को जागरुक करने का काम कर रही हूं। इसके अलावा गरीबों को कुछ राहत सामाग्री भी वितरित कर रही हूं।

मुजफ्फरपुर के अस्पतालों में व्यवस्थागत संसाधन उपलब्ध है-

वीणा देवी ने कहा कि मुजफ्फरपुर के दौरे के समय अस्पताल के डॉक्टरों और सुपरिटेंडेंट का कहना था कि इस बीमारी से निपटने के लिए दवाइयों की कमी नहीं है। हालांकि वीणा देवी ने कहा कि अगर किसी चीज कमी हो तो बताइए ताकि इन मुद्दों से प्रधानमंत्री मोदी और लोकसभा को अवगत कराया जा सके।

नीतीश कुमार मंगल पांडेय से इस्तीफा मांग रहे हैं-
CM NITISH KUMAR AND HEALTH MINISTER MANGAL PANDEY

इस खबर के बारे में वीणा देवी का कहना है कि नीतीश कुमार, मंगल पांडेय का इस्तीफा मांग रहे हैं या नहीं, इसके बारे में मेरे पास कोई जानकारी नहीं है। हालांकि इस मुद्दे पर नीतीश कुमार ही फैसला करेंगे।

कौन है बच्चों की मौ’त के जिम्मेदार-

बच्चों की मौ’त के लिए जिम्मेदार कौन हैं इस सवाल पर वीणा देवी ने कहा कि सरकार अपनी ओर से पूरी कोशिश कर रही है। जागरुकता अभियान के साथ-साथ देश-विदेशों से भी डॉक्टर चमकी बुखार की कहर से निपटने के लिए आये हैं। उन्होंने यह भी कहा कि बच्चों की मौ’त से जितने परिवार वाले दुखी हैं उतने ही दुखी नेता भी हैं। वीणा देवी ने कहा कि वे चमकी बुखार से निपटने के लिए अपने क्षेत्र में अस्पताल भी बनायेंगी।