ममता जी हम बंगाल को जलने नहीं देंगे-नित्यानंद राय

PATNA: लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections ) का अंतिम दौर चल रहा है। पश्चिम बंगाल (WEST BENGAL) में इस बार पूरे चुनाव में काफी तरह के झंजाबाद सामने आये चाहे वह ट्विटर वाद विवाद वाले हो या फिर मार पीट तोड़ फोड़ और हिंसा के हो । ममता बनर्जी (MAMATA BANERJEE) की पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) की पूरे देश में खूब चर्चा हो रही है। 

मंगलवार को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह  (AMIT SHAH ) के रोड शो के दौरान हिंसा हुई। इसी दौरान हिंसक झड़पों में कुछ शरारती तत्वों ने कॉलेज में लगी समाज सुधारक ईश्वर चंद विद्यासागर की 19वीं सदी की लगी मूर्ति तोड़ दी। जिसके बाद देखते ही देखते चंद मिनटों में सियासत गरमा गई। जिस पर बिहार बीजेपी अध्यक्ष नित्यानंद राय ने ट्वीट करके ममता बनर्जी पर हमला बोला और कहा कि “ममता दीदी लाख कोशिश कर लें,  हम बंगाल को नहीं जलने देंगे “

गौरतलब है कि इस बार के 17 वीं लोकसभा के चुनाव में सम्पूर्ण भारत में पश्चिम बंगाल कुछ ज्यादा ही हिंसक रूप में रहा है। मामला पिछले मंगलवार का है जब अमित शाह के रोड शो के दौरान टीएमसी कार्यकर्ताओं ने रोड शो को न होने देने के मंसूबों के चलते हिंसा करनी चालू कर दी और उसी दौरान कुछ सरारती तत्वों ने समाज सुधारक ईश्वर चंद विद्यासागर की अति प्राचीन मूर्ति तोड़ दी, जिस पर बिहार के बीजेपी अध्यक्ष नित्यनन्द राय ने ट्वीट करके कहा कि क्षोभ की बात यह रही कि जिन ईश्वरचंद्र विद्यासागर जी ने भारतीय नागरिक समाज को शिक्षा के लिए प्रेरित किया हो, कई सामाजिक सुधारों की प्रेरणा दी हो, उन्ही की मूर्ति तोड़ दी गयी ये बेहद निंदनीय है।

उन्होंने कहा कि ममता दी अपनी तानाशाह और हिंसक सोच में कितनी आगे बढ़ चुकी हैं, सत्ता पाने के लिए वह पूरे राज्य को किस तरह आग में झोंक रही हैं, यह अब केवल हमारा आरोप मात्र नहीं है, बल्कि इस पर चुनाव आयोग ने भी तत्काल प्रभाव से मुहर लगा दी है।

चुनाव आयोग ने कहा कि हिंसा की घटनाओं को लेकर बेहद अफ़सोस है। हमने पहली बार इस तरह से धारा 324 का उपयोग किया है। भविष्य में भी ऐसी घटनाएं हुईं तो हम फिर कदम उठाएंगे। नित्यानंद ने कहा कि आप कितनी भी कोसिस कर लें हम बंगाल को जलने नहीं देंगे।