सीट बंटवारे से नाराज मांझी दिल्ली में चल रही महागठबंधन की बैठक बीच में छोड़ पटना रवाना

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

PATNA : महागठबंधन में सीट बंटवारे की गाँठ सुलझने की बजाये और उलझ गई है। जहाँ तेजस्वी यादव कह रहे हैं कि सब ठीक है और जल्द ही सब कुछ फाइनल हो जाएगा वहीँ खबर आ रही है कि सीट बंटवारे में अपने हिस्से 2 सीटें आने से नाराज जीतन राम  मांझी दिल्ली में चल रही महागठबंधन की बैठक बीच में छोड़ कर पटना के लिए रवाना हो गए। सीट बंटवारे को फाइनल करने के लिए अभी दो दिनों तक महागठबंधन के सभी नेताओं को पटना में रुकने के लिए कहा गया था लेकिन असंतुष्ट मांझी बैठक छोड़ पटना के लिए निकल लिए। 

महागठबंधन के नेता जिस फ़ॉर्मूले को ले कर बात कर रहे हैं उसके हिसाब से राजद को 20 सीट, कांग्रेस को 11 सीटें, रालोसपा को 3 सीटें, जीतन राम मांझी की पार्टी हम को 2 सीटें और मुकेश सहनी की वीआईपी को 1 सीट दी जा रही है। मांझी के हिस्से में गया के साथ साथ नालंदा सीट भी जा रही है। लेकिन मांझी इससे खुश नहीं हैं। मांझी गया से तो संतुष्ट है लेकिन नालंदा के बजाये उन्हें जहानाबाद सीट चाहिए साथ ही उन्होंने 3 सीटों की मांग की है क्योंकि रालोसपा को भी तीन सीटें मिल रही है।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar, Live India

एक तरफ जहाँ एनडीए उम्मीदवारों के चयन में जुटा है वहीँ महागठबंधन हर रोज नए नए फ़ॉर्मूले के साथ सीटों के घोषणा की नयी नयी तारीखें बता रहा है। पहले चरण की वोटिंग 11 अप्रैल से होनी है। 19 मार्च से पहले चरण के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू होगी लेकिन अभी तक महागठबंधन में ना तो किसी पार्टी को अपनी सीटों का पता है और न उम्मीदवारों का। वीआईपी पार्टी के मुकेश सहनी भी एक सीट मिलने से खुश दिखाई नहीं दे रहे। उन्होंने ने भी कांग्रेस और राजद को बड़ा दिल दिखाने के लिए कहा है और ये इशारा दिया है कि उनके मान सम्मान का ख्याल रखा जाए।  इन सबके बीच उपेन्द्र कुशवाहा बिलकुल चुप हैं।