Matric Compartmental Exam का रिजल्ट जारी,बोर्ड ने स्थापित किये कई कीर्तिमान,73% विद्यार्थी पास

PATNA: Matric Compartmental and special परीक्षा का रिजल्ट जारी किया गया। इस परीक्षा में वैसे विद्यार्थी शामिल हुए थे, जो इस साल के मैट्रिक परीक्षा में फेल हो गये थे। इसके साथ ही इस साल हुई मैट्रिक की परीक्षा में किसी कारणवश अनुपस्थित विद्यार्थियों को भी फिर से परीक्षा देने का मौका दिया गया था। यह रिजल्ट 31 मई को दोपहर 3 बजे बिहार के शिक्षा मंत्री  कृष्णनंदन वर्मा के द्वारा जारी किया गया।

इस परीक्षा में कुल 66,038 परीक्षार्थी शामिल हुए थे, जिसमें से 48,648 सफल रहे। इस तरह 73.67 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल रहे। इस परीक्षा में 41724 छात्राएं और 24314 छात्रों ने भाग लिया था, जिसमें 30,735 छात्राएं और 17,913 छात्रों को सफलता मिली। इस तरह लड़कियों का दबदबा बरकरार रहा।

कई कीर्तिमान स्थापित-

बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने कहा कि इस परीक्षाफल के साथ ही BSEB/बिहार बोर्ड ने कई कीर्तिमान स्थापित की है क्योंकि
इस परीक्षा का आयोजन 14 से 17 मई के बीच किया गया था और कॉपी की जांच 24 मई से शुरू हुई थी। इस तरह सिर्फ सात दिनों के अंदर कॉपी की जांच करके रिजल्ट घोषित कर दिया गया है। यह अपने आप में बड़ी बात है क्योंकि भारत में अबतक किसी बोर्ड ने इतने कम समय में रिजल्ट जारी नहीं किया है।

कीर्तिमान स्थापित करने का सिलसिला यहीं नहीं रुकता है बल्कि आपको बता दें कि कोई भी बोर्ड Compartmental परीक्षा का रिजल्ट मई तक नहीं घोषित कर पाता है जबकि बिहार बोर्ड ने ऐसा कर दिखाया है। इसके लिए बोर्ड ने उच्च गुणवत्ता वाली कम्प्यूटराइज तरीकों और आधुनिक प्रणाली का इस्तेमाल करके सिर्फ 7 दिनों के अंदर रिजल्ट घोषित किया। यह निश्चित रुप से बिहार और बिहारवासियों के लिए गौरव की बात है।

बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने अध्यक्ष आनंद की तारीफ करते हुए कहा कि बिहार बोर्ड देश के अन्य राज्यों के मुकाबले में सबसे आगे है। बिहार में सीएम नीतीश ने शिक्षा-व्यवस्था में सुधार किया है और सभी अधिकारियों ने भी ईमानदारी से अपने कर्तव्यों का पालन किया है।