मनी-ला’ड्रिंग मामले में मीसा भारती की आज दिल्ली हाईकोर्ट में हुई पेशी,अगली सुनवाई 27 जुलाई को

PATNA: राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार के खि’लाफ मनी-लाड्रिं’ग मामले में के’स चल रहा है। आज इसी सिलसिले में दोनों पति-पत्नी दिल्ली हाईकोर्ट में पेश हुए। 

मीसा भारती पर आ’रोप है कि वे सुरेंद्र जैन तथा वीरेंद्र जैन की शेल कंपनी के जरिये आठ हजार करोड़ रुपये के काले-धन को सफेद करने में लिप्त थी। उनके खि’लाफ प्रवर्तन निदेशालय ने पूरक आरोप पत्र दाखिल किया है। इसपर अगली सुनावाई 27 जुलाई को होगी।

DR. MISA BHARTI

आपको बता दें कि इस मामले में ईडी ने 23 दिसंबर 2017 को कोर्ट में एक आरोप पत्र दाखिल किया था। इसमें ईडी ने बताया कि मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार काले-धन को सफेद बनाने में लिप्त हैं। ईडी ने मीसा भारती से पूछताछ की और दिल्ली सहित उनके कई ठिकानों पर छा’पे भी मारे। इतना ही नहीं, छा’पेमारी के दौरान ही इस मामले में ईडी ने कोर्ट से आदेश पर मिलने पर मीसा के दिल्ली वाले फार्म हाउस को ज’ब्त भी कर लिया था।

तेजस्वी पर भी गिरी हुई है ईडी की गाज-

ईडी ना सिर्फ मीसा भारती बल्कि उनके भाई तेजस्वी यादव पर भी कार्र’वाही कर रही है। गौरतलब है कि तेजस्वी यादव मंगलवार को IRCTC घोटा’ले के मामले को लेकर दिल्ली पटियाला कोर्ट में पेश हुए। इस दौरान तेजस्वी यादव की ओर अर्जी लगाकर ED के मामले चल रहे ट्रायल पर रोक लगाने की मांग की गई है। तेजस्वी यादव की अर्जी पर कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षति रख लिया है।

तेजस्वी यादव की अर्जी पर कोर्ट अब 23 जुलाई को अपना फैसला सुनाएगा। उस दिन कोर्ट अपने फैसले में यह तय करेगा कि जब तक CBI के दाखिल मामले में आरोप तय नहीं हो जाते तब तक ED के मामले में आरोप तय हो सकते हैं या नहीं। जानकारी के लिए बता दें कि ED ने यह केस CBI की FIR के आधार पर दर्ज किया था।