जीतन राम मांझी के बाद अब उनके बेटे ने भी जताई CM बनने की इच्छा, कहा-मुझमें भी काबिलियत कम नहीं

PATNA: बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है। जहाँ एक तरफ महगठबंधन चुनावों को लेकर रणनीति बनाने में जुट गया है तो वहीँ दूसरी तरफ एनडीए ने भी अपनी कमर कस ली है। अब हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी के बेटे संतोष मांझी ने भी बड़ा बयान देकर हलचल तेज कर दी है।

मीडिया से बात करते हुए हम प्रमुख जीतन राम मांझी के बेटे संतोष मांझी ने भी बिहार के मुख्यमंत्री बनने की बात कही है। संतोष मांझी ने इशारों ही इशारों में सही लेकिन अपने मन की इच्छा जाहिर कर दी। उन्होंने कहा कि अगर काबिलियत की बात की जाए तो मुझमे भी काबिलियत कम नहीं है।

LIVE BIHAR

इसी के साथ ही उन्होंने तेजस्वी यादव और चिराग पासवान से तुलना करते हुए कहा कि तेजस्वी यादव और चिराग पासवान की तरह उन्हें राजनीति विरासत में नहीं मिली है। अगर वो पढ़े लिखे है तो मैं भी पढ़ा लिखा हूं। संतोष मांझी ने कहा कि वह प्रत्येक क्षेत्र में काम करने की क्षमता रखता हूं।

बता दें इससे पहले संतोष मांझी के पिता जीतन राम मांझी ने भी सीएम बनने इच्छा जाहिर की थी। मांझी ने अपने कार्यकाल की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि जनता जिसको मौक़ा देगी वह खुद को साबित करेगा। इस दौरान इशारों ही इशारों में मांझी ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री बनने की इच्छा भी जाहिर कर ही दी।

शिवानंद तिवारी ने साधा निशाना:

वहीँ मांझी के बयान के बाद RJD के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष Shivanand tiwari ने कहा कि जीतन राम मांझी अब अधीर हो रहे हैं और वह खुद ही अपने बयान से मजाक के पात्र भी बन रहे हैं। महागठबंधन में मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार किसे बनाया जाएगा ये सभी दल तय करेंगे उसके बाद फैसला लिया जाएगा। अभी इस बारे में कोई बात तय नहीं की गई है।