गर्मी से लोगों को मिलेगी निजात, 22 मई से हो सकता है पूर्वी बिहार में प्री मानसून का आगाज

PATNA : बढ़ते तापमान से Bihar के लोगों का बुरा हाल हो गया है। तेज धूप के चलते लोगों का घरों से बाहर निकलना भी मुश्किल होता जा रहा है। मौसम विभाग की रिपोर्ट की माने लोगों को गर्मी से निजात मिल सकती है। मौसम विभाग की  Weather Report  अनुसार दक्षिण-पश्चिमी मानसून ने अंडमान सागर में समय से पूर्व ही दस्तक दे दी है। जिसके चलते बिहार के लोगों को गर्मी से राहकत मिल सकती है।

बिहार के पूर्वो क्षेत्र में 22 मई को प्री मानसून आने की पूरी संभावना बनी हुई है। मौसम विभाग ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि 22 मई से पूर्वी बिहार के क्षेत्रों में प्री मानसून की बारिश हो सकती है। इसी के साथ ही 21 जून की शाम से ही मोतिहारी, बेतिया के साथ ही उसके निकट के क्षेत्रों में मौसम में बदलाव दिखाई दे सकता है।

WEATHER

बता दें कि रविवार को राजधानी पटना में भीषण गर्मी से लोगों को जूझना पड़ा। वहीँ बिहार के कुछ हिस्सों में तापमान अधिक रहने के साथ ही पछुआ के प्रहार ने पूरे दिन लोगों को परेशान किया। दोपहर एक बजे के बाद पटना में 34 किलोमीटर की रफ्तार से चली पछुआ हवा ने बेहाल कर दिया। इस वजह से तापमान बहुत अधिक नहीं रहने के बावजूद गर्मी बढ़ी रही। गया और भागलपुर में भी तापमान सामान्य से बहुत अधिक दर्ज किया गया।

वहीँ पूर्वी बिहार के साथ इसके आसपास बनी चक्रवाती हवा के प्रभाव की स्थिति पिछले 24 घंटे में काफी कमजोर हो गई है। जिसके चलते एक फिर से गर्मी बढ़ गई। मौसम विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक़ 25 मई तक पटना में भीषण गर्मी की स्थिति बनी रहने वाली है। वहीँ 21 मई को गया, नालंदा, पटना, जहानाबाद, सीवान, शेखपुरा के साथ साथ छपरा, गोपालगंज क्षेत्रों में भी गर्म हवाओं के चलने के पूरे आसार हैं।