ब्रजेश ठाकुर की राजदार मधु समेत 3 पर चार्जशीट, मामला 11 महिलाओं के ‘गायब’ होने का

MUZAFFARPUR: स्वधार गृह केंद्र से 11 महिलाओं के गायब होने के मामले में मुजफ्फरपुर पुलिस ने चार्जशीट दायर कर लिया है। इसमें शेल्टर होम केस के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर (Brajesh Thakur) की राजदार मधु समेत 3 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया गया है। इसमें तीनों आरोपितों पर आईपीसी की विभिन्न धाराओं समेत एससी-एसटी एक्ट के तहत आरोप गठित किया गया है। साथ ही ब्रजेश ठाकुर को रिमांड पर लेने के लिए पुलिस ने कोर्ट में आवेदन दिया है।

शाइस्ता परवीन उर्फ मधु के अलावा कृष्णा, और रामानुज के खिलाफ चार्जशीट हुआ है। बताया जा रहा है कि जल्दी ही ब्रजेश ठाकुर के खिलाफ भी चार्जशीट दायर की जाएगी। सब जज वन की कोर्ट में आईपीसी की धारा 188,363,366,420,366 ए, 406 और 409 के साथ ही एस सी एसटी एक्ट की धारा 3 के 1 और 2 उपधाराओं में चार्जशीट किया गया है। इन मामलों में उम्रकैद तक की सजा हो सकती है।
बता दें कि महिला थाना में स्वधार केंद्र से लापता हुई 11 महिलाओं के मामले में जुलाई 2018 में केस दर्ज हुआ था। स्वधार केंद्र को सेवा संकल्प एवं विकास समिति चलाती थी, जिसकी पूरी जिम्मेदारी मधु संभालती थी।

महिला थाना प्रभारी ज्योति कुमारी ने बताया कि ब्रजेश ठाकुर के कोर्ट में हस्ताक्षर नहीं होने से इस केस में प्रोडक्शन नहीं हो पा रहा है। लेकिन पुलिस कोर्ट से अनुमति मिलते ही ब्रजेश ठाकुर से पूछताछ करेगी। गौरतलब है कि पुलिस दो बार कोर्ट में ब्रजेश ठाकुर के प्रोडक्शन के लिए आवेदन दे चुकी है। जिन 3 पर चार्जशीट हुआ है उसपर बालिका गृह मामले में भी चार्जशीट दायर है।

बता दें कि बीते 19 दिसंबर को सीबीआई ने जो चार्जशीट दायर की है उसमें शाइस्ता परवीन उर्फ मधु के बारे में कई खुलासे किए गए हैं। चार्जशीट के अनुसार मधु शेल्टर होम केस के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर की खास राजदार थी और एनजीओ सेवा संकल्प और विकास समिति के प्रबंधन से जुड़ी थी।