नवादा लोकसभा सीट : भाभी थी प्रबल दावेदार लेकिन देवर को मिल गया टिकट

PATNA : एनडीए ने बिहार की 40 लोकसभा सीटों में से 39 सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा कर दी। ज्यादातर नाम वही थे जिनके बारे में कयास लगाए जा रहे थे लेकिन एक नाम ऐसा था जिसने सबको चौंका दिया। इस नाम के बारे में किसी को अंदाजा नहीं था। वो नाम था नवादा सीट से लोजपा उम्मीदवार के तौर पर चन्दन कुमार का। दरअसल जब लोजपा को मुंगेर के बदले नवादा सीट मिली तो उम्मीद जताई जा रही थी कि मुंगेर के सिटिंग सांसद वीणा देवी को उम्मीदवार बनाया जाएगा। आखिर तक उनका नाम चर्चाओं में था लेकिन जब चन्दन कुमार का नाम घोषित हुआ तो सब सकते में आ गए। 

दरअसल चन्दन कुमार बाहुबली नेता और पूर्ण सांसद सूरजभान सिंह के सबसे छोटे भाई और मुंगेर से मौजूद सांसद वीणा देवी के देवर हैं।बड़े भाई की बाहुबली छवि से अलग चन्दन कुमार बिहार के बड़े कॉन्ट्रैक्ट में गिने जाते हैं। चुनावी दांव में वो अपनी भाभी वीणा देवी पर भारी पड़ गए। चन्दन झारखण्ड के एक बड़े बिल्डर के दामाद हैं और कई राज्यों में उनका बिजनेस फैला हुआ है। चन्दन को उस सीट को निकालने  की जिम्मेदारी मिली है जिसका प्रतिनिधित्व गिरिराज सिंह जैसे हैवीवेट नेता करते हैं।गिरिराज सिंह की नाराजगी मोलकर चन्दन कुमार को ये सीट दी गई है।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

लोजपा के घोषित 5  उम्मीदवारों में से चन्दन एकलौते भूमिहार उम्मीदवार हैं। चन्दन का सामना महागठबंधन की उम्मीदवार विभा देवी से होगा, जो जेल में बंद राजद नेता राजबल्लभ यादव की पत्नी हैं। अब ये लड़ाई सीधे सीधे यादव बनाम भूमिहार की हो गई है। नवादा संसदीय क्षेत्र में वोटरों की कुल संख्या 1,397,512 है। नवादा को भूमिहार बहुल क्षेत्र कहा जाता है। हालाँकि  मुस्लिम और यादव मतदाताओं की भी अच्छी तादाद है। एम-वाई समीकरण के दम पर इस बार राजद इस सीट को अपनी झोली में डालने की जुगत में है।