मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में एक नया खुलासा,19 गाडि़यां बेच दी गईं कबाड़ में

PATNA : मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में नया और हैरान कर देने वाला तथ्य सामने आया है। नए नए खुलासे होते रहते हैं। बालिका गृह का संचालन करनेवाली संस्था सेवा संकल्प एवं विकास समिति के 19 वाहनों का पता नहीं चल पा रहा। इससे पहले ये भी खबर आई है जिसमे मुख्‍य आरोपित ब्रजेश ठाकुर को पटियाला की जेल में प्रताडि़त किया जा रहा है। यह आरोप ब्रजेश के बेटे व बेटी ने लगाया है।

जिला परिवहन विभाग द्वारा इन वाहनों की खरीद-बिक्री पर रोक लगाने के बाद जब्त होने की कार्रवाई से बचने के लिए आनन-फानन यह कदम उठाया गया है। आपको बता दें कि टीआईएसएस ने 7 महीनों तक 38 जिलों के 110 संस्थानों का सर्वेक्षण किया। इस सर्वेक्षण में एक और चौंकाने वाला तथ्य सामने आया है। रिपोर्ट में ब्रजेश ठाकुर द्वारा संचालित मुजफ्फरपुर बालिका गृह का भी नाम दर्ज होने के कारण उसके खिलाफ कार्रवाई की गई। मामले की जांच सीबीआइ कर रही है। धीरे धीरे काफी खुलासे हो रहे हैं इस मामले में।

अभी इतना ही नहीं अभी ये भी देखने वाली बात है की कितने बड़े नेता और अफसर का नाम आता है इसमें। दरअसल जिले में सरकार द्वारा संचालित बालिका गृह में गड़बड़ी की खबरें प्रदेश सरकार को काफी समय से मिल रही थीं। इतना ही नहीं जो पत्र मिला है सुप्रीम कोर्ट को उसके बाद इस पत्र का सुप्रीम कोर्ट ने संज्ञान लेकर ब्रजेश की मेडिकल जांच का आदेश दिया है।

Muzaffarpur Balika Ghar Kand

इस पत्र का सुप्रीम कोर्ट ने संज्ञान लेकर ब्रजेश की मेडिकल जांच का आदेश दिया है। बेटे व बेटी ने सुप्रीम कोर्ट को पत्र लिखकर कहा है कि उनके पिता को पटियाला जेल में शारीरिक व मानसिक रूप से परेशान करने की खबर दी है।वाहनों का कोई ट्रेस पता नहीं चल रहा। नोटिस भी वापस लौट आए हैं। डेली नए नए खुलासे हो रहे हैं।  जल्द से जल्द सीबीआई इसपर जीत हासिल कर लेगी।

The post मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में एक नया खुलासा,19 गाडि़यां बेच दी गईं कबाड़ में appeared first on Mai Bihari.