महिलाओं ने बदला नीतीश का नाम, अपना नया ‘क्विंटलिया बाबा’ नाम सुन चौंक गए CM

पटना: मंगलवार को पटना के अधिवेशन भवन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार आपदा प्रबंधन प्राधिकार की स्थापना दिवस के मौके पर पहुंचे थे। जहां बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने बारे में एक चौंकाने वाला खुलासा किया। उन्होंने बताया कि जब वे सीमांचल इलाके में गए तो कुछ लोगों ने उनसे कहा कि अब से उनका नाम बदल गया है। ये सुनकर मुझे आश्चर्य हुआ। सुनकर जब लोगों से पूछा तो पता चला कि उनका नाम महिलाओं ने क्विंटलिया बाबा रख दिया है। महिलाओं ने खुश होकर उनका ये नामकरण किया है।

नीतीश ने बताया कि 2007 में सीमांचल में भीषण बाढ़ आयी ती और बाढ़पीड़ितों के लिए राज्य सरकार ने अनाज के खजाने खोल दिए थे। हर परिवार को एक-एक क्विंटल अनाज देने का आदेश दिया था। सभी घरों को अनाज पहुंचाया गया। इससे खुश होकर ही महिलाओं ने उनका नाम बदल दिया था।

तो वहीं  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को कहा कि आपदा के प्रति लोगों में जागरूकता जरूरी है। हमें जापान से यह सीखना चाहिए कि भूकंप से कैसे प्रभावी रूप से बचाव किया जा सकता है। अधिवेशन भवन में आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के ग्यारहवें स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें आपदा जोखिम न्यूनीकरण (डीआरआर) के रोड मैप पर पूरी तरह से सचेत रहना चाहिए।

साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार आपदा की आशंका वाला राज्य है। हर वर्ष इसे बाढ़ झेलनी पड़ती है। इस बार  हमलोग सूखे का सामना कर रहे हैैं। हमें यह देखना चाहिए कि भूकंप आने की परिस्थिति में कम से कम नुकसान हो। भूकंप को ध्यान में रख ठीक से आधारभूत संरचना का निर्माण हो।

The post महिलाओं ने बदला नीतीश का नाम, अपना नया ‘क्विंटलिया बाबा’ नाम सुन चौंक गए CM appeared first on Mai Bihari.