प्रेमचंद्र मिश्रा को CM नीतीश का जबाव, कहा- आपकी सरकार में मुझे पि’स्तौल सटा जेल ले जाया गया था

PATNA: बिहार में मानसून सत्र के दौरान विपक्षी दलों द्वारा नीतीश सरकार पर जमकर निशाना साधा जा रहा है। सत्र शुरू होने पर पहले तो चमकी बुखार को लेकर सरकार को घेरा गया वहीँ अब बढ़ते अपराध पर सरकार हमला बोला जा रहा है।

गुरूवार को सदन में कांग्रेसी नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए कहा कि आज की पुलिस सिर पर लाठी मारती है। इसी के साथ ही उन्होंने आगे कहा कि ऐसा कोई प्रावधान नहीं है, पुलिस को मैन्युअल में पैर से नीचे लाठी मारने का प्रावधान है। प्रेमचंद्र मिश्रा के लाठी वाले बयान पर सीएम नीतीश कुमार ने सदन में पुरानी बात का जिक्र करते हुए जवाब में कहा कि आपकी सरकार में मेरी क’नपटी पर पि’स्तौल सटाकर जेल ले जाया गया था।

premchandra mishra

सीएम नीतीश कुमार के इस जवाब के बाद प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि उस समय जो कुछ हुआ वह गलत था लेकिन अब जो हो रहा है वह भी गलत है। उस समय तत्कालीन सरकार चली गई थी वहीँ अब नीतीश सरकार के जाने का भी समय आ गया है।

सदन में अपराध को लेकर राबड़ी देवी ने CM नीतीश के खिलाफ खोला मोर्चा:

बता दें मानसून सत्र के दौरान शुक्रवार को भी विपक्षी दलों द्वारा नीतीश सरकार पर राज्य में बढ़ते अपराध को लेकर हमला बोला गया। इतना ही नहीं सदन के बाहर राबड़ी देवी ने आरजेडी नेताओं से साथ मिलकर नीतीश कुमार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। वहीँ सदन में राबड़ी देवी ने कहा कि बिहार की कानून व्यवस्था भगवान भरोसे चल रही है। राज्य में अपराधी खुलेआम अपराध की वारदात को अंजाम दे रहे हैं। बिहार में नीतीश सरकार अपराधियों के सामने बेबस नजर आ रही है।

राबड़ी देवी ने पटना की घटना का जिक्र करते हुए कहा एक बच्ची का कपड़ा अपराधियों ने फाड़ दिया उसकी आबरू लूटने की कोशिश की। जिस अपराधी बिहार में खुलेआम वारदात को अंजाम दे रहे हैं उसे देखकर तो यही लग रहा है कि नीतीश सरकार अपराधियों के सामने घुटने टेक चुकी है।