नित्यानंद राय ने ग्रहण किया गृह राज्यमंत्री पदभार,कहा-कर्तव्यों पूरा करने के लिए हूं प्रतिब’ध्द

PATNA: समस्तीपुर जिले के उजियारपुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से नवनिर्वाचित सांसद नित्यानंद राय ने मोदी सरकार में गृह राज्य मंत्री का पदभार ग्रहण कर लिया है। उन्हें भारतीय जनता पार्टी ने कैबिनेट मंत्री का दर्जा और गृहराज्य मंत्री का पद दिया है। गौरतलब है कि 30 मई को राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का शपथ दिलाया। इसी शपथ ग्रहण समारोह में राय को भी कैबिनेट मंत्री पद का शपथ दिलाया गया।

सांसद और गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय-

नित्यानंद राय उजियारपुर से उपेन्द्र कुशवाहा को हराकर सांसद बने हैं। नित्यानंद को कुल 543906 (56.11%) वोट मिला। वे उपेन्द्र कुशवाहा से 277278 वोटों से जीते। कुशवाहा 266628(27.51%) वोटों के साथ दूसरे स्थान पर रहें। गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भी यहां का सांसद नित्यानंद राय ही थे। 2019 में वे यहां से दोबारा सांसद बने और मोदी कैबिनेट में गृह राज्य मंत्री पद हासिल किये।

राय भाजपा बिहार के वर्तमान अध्यक्ष हैं। राय हाजीपुर से, 2000 से लेकर 2014 तक लगातार तीन बार विधायक रहें हैं। वे 2014 में उजियारपुर से भाजपा के टिकट पर लोकसभा सांसद बनें। उन्हें 2006-10 में बिहार विधानमंडल के सचेतक के रूप में नियुक्त किया गया था। उन्हें कई बार संसदीय समिति का सदस्य बनने का भी मौका मिला है, जैसे- भूमि अधिग्र’हण विधेयक-2015 पर निष्प’क्ष मुआ’वजे और पारदर्शिता के अधिकार पर संयुक्त समिति के सदस्य रहे हैं और 2014 में कृषि पर स्थायी समिति के सदस्य बने हैं।

बिहार से मोदी मंत्रीमंडल में मंत्री-

30 मई को लोकसभा चुनाव में बहुमत प्राप्त करने वाली दल भाजपा और इसके गठबंधन एनडीए का शपथ ग्रहण समारोह संपन्न हुआ। इसमें बिहार से नवनिर्वाचित कुल 6 सांसदों को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंत्री पद का शपथ दिलाया। रविशंकर प्रसाद, गिरिराज सिंह, रामविलास पासवान कैबिनेट मंत्री,  अश्विनी चौबे, नित्यानंद राय राज्य मंत्री और आरके सिंह राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार का शपथ ग्रहण किये हैं।

मोदी के नये मंत्रिमंडल का चेहरा-
Modi Government

इस बार कई मंत्रालयों में बदलाव देखने को मिल रहा है। इस बार गृह मंत्रालय अमित शाह संभालेंगे, जबकि पिछली बार राजनाथ सिंह संभाल रहे थे । वहीँ राजनाथ सिंह को इस बार रक्षा मंत्रालय की कमान सौंपी गई है। वित्त मंत्रालय की जिम्मेवारी निर्मला सीतारमण को सौंपा गया है, जबकि मोदी की पिछली सरकार में उन्हें रक्षा मंत्रालय सौंपा गया था। इस बार भी रेल मंत्रालय की कमान पीयूष गोयल ही संभालेंगे। नितिन गडकरी को भी इस बार भी सड़क परिवहन एवं राजमार्ग और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय सँभालेंगे। विदेश मंत्रालय की कमान एस. जयशंकर को सौंपी गयी है जबकि मोदी के पिछले मंत्रिमंडल में सुषमा स्वराज विदेश मंत्री थी, लेकिन इसबार चुनाव लड़ी और ना ही मंत्री बनने की इच्छा जाहिर की।