उजियारपुर लोकसभा सीट से आज भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय करेंगे नामांकन

PATNA : भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय (Nityanand Rai) आज उजियारपुर लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल करेंगे। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी समेत एनडीए के कई बड़े नेता शामिल होंगे। नित्यानंद राय उजियारपुर  से वर्तमान सांसद हैं और पार्टी ने उनकी सीट बरक़रार रखी है। उजियारपुर में उनका मुकाबला रालोसपा सुप्रीमों उपेन्द्र कुशवाहा से होगा। रविवार को उन्होंने कहा कि अपने नामांकन के साथ मैं जीत की बुनियाद रखूँगा जबकि उपेन्द्र कुशवाहा अपनी हार की बुनियाद रखेंगे। 

दो पार्टियों के प्रदेश अध्यक्षों की लड़ाई में उजियारपुर की लड़ाई काफी दिलचस्प हो गई है। 2014 में उपेन्द्र कुशवाहा एनडीए के साथ थे और इस बार अलग हो कर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ ही ताल ठोक रहे हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में नित्यानंद राय ने आरजेडी उम्मीदवार आलोक कुमार मेहता को करीब 60,000 मतों से मात दी थी। ये नित्यानंद राया का पहला लोकसभा चुनाव था। इससे पहले वो हाजीपुर से 2000 से 2010 के बीच लगातार तीन बार विधायक रह चुके हैं। 2014 के चुनाव में जीत हासिल करने के बाद उन्हें भाजपा ने प्रदेश अध्यक्ष बना दिया।

quaint media

2009 के परिसीमन में रोसड़ा लोकसभा ख़त्म होने के बाद उजियारपुर अस्तित्व में आया। 2009 में जेडीयू एनडीए का हिस्सा थी और जेडीयू के उम्मीदवार विजयी हुए थे। उजियारपुर लोकसभा क्षेत्र के अन्दर 6 विधानसभा सीट आते हैं –  उजियारपुर, विभूतिपुर, सरायरंजन, मोरवा, मोहिउद्दीननगर और पातेपुर। उजियारपुर, मोहिउद्दीननगर और पातेपुर  सीट पर राजद का कब्ज़ा है तो विभूतिपुर, सरायरंजन और मोरवा जेडीयू के पास है। उजियारपुर लोकसभा सीट पर यादव और कुशवाहा वोटरों की संख्या सबसे ज्यादा है। उसके बाद ब्राह्मण और मुस्लिम मतदाता हैं। पिछड़ी और अतिपिछड़ी जातियों के वोटर भी निर्णायक भूमिका में है। उजियारपुर में चौथे चरण में 29 अप्रैल को मतदान होगा।