कांग्रेस में शामिल होते ही पप्पू सिंह ने दी पप्पू यादव को चुनौती, बोले- पूर्णियां से आ जाएँ मैदान में

PATNA : कांग्रेस में शामिल होते ही पूर्णिया के पूर्व सांसद उदय सिंह उर्फ़ पप्पू सिंह (Pappu Singh) ने पप्पू यादव (Pappu Yadav) को चुनौती दे डाली। पप्पू सिंह ने पूर्णिया से अपने टिकट के लिए दावेदारी ठोक दी और पप्पू यादव को चुनौती देते हुए कहा – पप्पू यादव पूर्णिया से मैदान में आ जाएँ तो फिर उन्हें हकीकत समझ आ जाएगा।  गौरतलब है कि पप्पू यादव ने ऐलान कर रखा है कि इस बार वो मधेपुरा के साथ साथ  पूर्णिया से भी चुनाव लड़ेंगे। वैसे पप्पू यादव और पप्पू सिंह दोनों ही पूर्णिया की जनता के लिए नए नहीं है। दोनों ही पूर्णिया का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। 

पप्पू सिंह ने कहा कि पप्पू यादव कन्फ्यूज्ड आदमी है।कभी कुछ बोलते हैं तो कभी कुछ। उन्हें खुद ही नहीं पता कि वो करना क्या चाहते हैं। पप्पू सिंह ने पप्पू यादव को चुनौती देते हुए कहा वे  पूर्णिया से मैदान में आ जाएँ तो उन्हें समझ आ जाएगा। भाजपा छोड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वो अटल बिहारी वाजपेयी के कारण भाजपा में आये थे लेकिन अब वहां काम करना मुश्किल हो गया था। उन्होंने कहा कि 17 सीटों पर लड़ने का फैसला पार्टी छोड़ने का मुख्य कारण है।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई। इस अवसर पर अखिलेश प्रसाद सिंह अमेट कई बड़े कांग्रेसी नेता उपस्थित थे। कभी पूर्णिया लोकसभा सीट कांग्रेस का गढ़ हुआ करता था लेकिन 90 के दशक में क्षेत्रीय पार्टियों के उभार के बाद ये सीट कांग्रेस के हाथों से निकल गई। अब कांग्रेस अपने पुराने गढ़ को फिर से पाना चाहती है। इसी रणनीति के तहत राहुल गाँधी की रैली पूर्णिया में कराई जा रही है जहाँ से वो पुरे सीमांचल को साधेंगे। एनडीए में सीमांचल की अधिकांश सीटें जेडीयू के कोटे में गई है। पूर्णिया से जेडीयू के वर्तमान सांसद संतोष कुशवाहा ने अपना नामांकन भी दाखिल कर दिया है। पूर्णिया में दुसरे  चरण में मतदान होना है।

ये भी पढ़ें भगोड़ा घोटालेबाज नीरव मोदी लन्दन में गिरफ्तार, कोर्ट में होगी पेशी