दंगा पीड़ितों की मदद को आगे आए पप्पू यादव, कहा- मैं अपनी जिम्मेदारी समझता हूं

PATNA: जन अधिकार पार्टी के संयोजक राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव लोगों की मदद को लेकर सुर्खियां बटोर रहे हैं। पहले तो उन्होंने पटना में जलजमाव के बीच लोगों तक खाना पहुंचकर मदद की वहीँ अब वह दंगा पीड़ितों की मदद को आगे आए हैं।

पप्पू यादव ने सोशल मीडिया के माध्यम से लिखा है कि संसाधन की अवश्य सीमा होती है,दिल की नहीं, उद्गार की नहीं। मैं अपनी जिम्मेदारी समझता हूं कि कहीं कोई पीड़ा में हैं,पीड़ित हैं तो मुझे उनके लिए हर कीमत पर हर परिस्थिति में खड़ा होना है। यह प्रतिबद्धता आज मुझे जहानाबाद खिंच लाई। दंगापीडितों की मदद की एक कोशिश किया।किसे इनकी फिक्र?

इससे पहले पप्पू यादव ने लिखा कि मैंने सिर्फ सेवा की है। सेवा से ही बदलाव की शुरुआत हो सकती है।मेरी समझ है कि पहले इंसान को इंसान तो मानो। सियासत को मनुष्य में इंसान नहीं, वोट का मशीन नजर आता है। राजनीति और सत्ता में बैठे हुक्मरान मानव को जीवित प्राणी नहीं मानेंगे, मुर्दा वोट मानते रहेंगे।तब तक बदलाव नहीं हो सकता।

पप्पू यादव ने जलजमाव की समस्या को लेकर भी पटना के लोगों की काफी मदद की थी। वहीँ एक बार फिर से पप्पू यादव लोगों के बीच मदद करने पहुंचे हैं। पप्पू यादव ने अपने ट्वीट से सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों पर निशाना साधा है।

बिहार में पैकेट वाला दूध पीने वाले लोग हों सावधान, गुणवत्ता पैमाने पर दूध कंपनियां हुईं फेल