तेज हवा के कारण कई जगह से टूटा पीपा पुल, गाड़ियों की आवाजाही रही प्रभावित

PATNA : राघोपुर को राजधानी पटना से जोड़ने वाली लाइफ लाइन कच्ची दरगाह पीपा पुल जर्जर अवस्था में पहुंच गई है। ठेकेदार द्वारा मेंटेनेंस न करने के कारण पुल की स्थिति दयनीय हो चुकी है। सोमवार की रात आई तेज हवा के कारण पीपा पुल में लगे लोहे के चादर कई जगह टूट कर अलग हो गए। पीपा पुल पर कई जगह गैप बन गया जिससे पुल पर दो घंटे से अधिक गाड़ियों की आवाजाही प्रभावित हुई और पूल पर जाम लग गया। पीपा पुल की स्थिति जर्जर हो चुकी है। ठेकेदार द्वारा मेंटेनेंस न करने के कारण पुल में लगे लोहे के चादर टूट चुके है। कई जगह टूटे लोहे के चादरों के बीच गैप बन गया है। लोहे के चादर कई जगह धंस चुके है। जिससे गाड़ियों के ठोकर लगने या पैदल पुल पार करने पर खतरे की संभावना बनी रहती है।

pipa

 

ठेकेदार द्वारा लोहे के चादरों को न बदल कर सिर्फ पुल में कई जगह नट बोल्ट ढीला है जिसके कारण सोमवार रात आई तेज हवा के कारण कई जगह चादर उखड़ गए। जिससे दो पिपा पुल के बीच गैप बन गया। जिसके कारण सुबह 10 बजे से साढ़े बारह बजे तक दो घंटे से अधिक समय तक पुल पर जाम की स्थिति बन गई। बाद में ठेकेदार के मजदूरों द्वारा बेल्डिंग कर लोहे के चादरों को ठीक किया गया तब पीपापुल पर आवागमन चालू हो सका।

पीपापुल के रुस्तमपुर छोड़ से ठेकेदार द्वारा अप्रोच रोड बनाने में अनियमितता बरती गई। जिसके कारण अप्रोच रोड में लगे ईंट उखड़ कर बेतरतीब तरीके से बिखर गए। इस संबंध में पुल निर्माण निगम के इंजीनियर सुनील कुमार से बात की गई तो उन्होंने कहा कि पूल के मेंटेनेंस न होने की जांच की जाएगी। गड़बड़ी पाए जाने पर ठेकेदार द्वारा मेंटेनेंस करवाया जाएगा।

 Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar, Live India

ड्यूटी करने जाने वालों ने बताया कि ठेकेदार द्वारा पुल का मेंटेनेंस नहीं किया जाता। पुराने चादरों को ही बिछाकर खानापूर्ति कर दी गई। जिससे आये दिन जाम लगता है। वहीं रुस्तमपुर के सुनील कुमार ने अप्रोच रोड के बिखरे ईंट को दिखाते हुए कहा कि रोड सही तरीके से नहीं बनाया गया जिसके कारण मोटरसाइकिल सवार दुर्घटना के शिकार होते हैं।