जेबकतरों का सरदार : पॉश कॉलोनी में रहना, 6 लाख नकद, 20 लाख के जेवरात और कार, हवाईजहाज से करता था ऐश

PATNA : राजधानी पटना में पिछले नौ साल से पॉकेटमारी करने वाले भागलपुर के दो शातिर अपराधियों को गांधी मैदान पुलिस ने गिरफ्तार किया है। छापेमारी के दौरान पकड़े गए अपराधियों के कब्जे से पुलिस ने 6 लाख नकदी तथा चोरी के पैसों से पत्नी के लिए खरीदे गए 20 लाख के कीमती जेवरात व दो मोबाइल बरामद किए हैं, जिनमें सोने के हार, कंगन, चेन, अंगूठी आदि शामिल हैं। पकड़े गए दोनों अपराधी मो. सनौव्वर तथा मो. वकील भागलपुर के सुल्तानगंज थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। केस दर्ज कर पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है।

बीते रविवार को गांधी मैदान थाना क्षेत्र के बापू सभागार में लोजपा की रैली थी। इसमें हजारों लोग शामिल थे। भीड़ में आए कई नेताओं और कार्यकर्ताओं की जेब कट गई थी। इस दौरान भीड़ द्वारा शातिर पॉकेटमार मो. सनौव्वर को पकड़ा गया था। गांधी मैदान थाना प्रभारी सुनील सिंह ने बताया कि जब आरोपित के नाम और पते का सत्यापन कराया गया तो पता चला कि मो. सनौव्वर शातिर जेबकतरा है जो पूर्व में भी चोरी व पॉकेटमारी के आरोप में जेल जा चुका है। पूछताछ करने पर आरोपित ने अपने गिरोह में शामिल मो. वकील का नाम भी बताया।

dummy image

पुलिस ने बाकरगंज स्थित एक अपार्टमेंट में छापेमारी कर मो. वकील को भी गिरफ्तार कर लिया। छापेमारी में दोनों के फ्लैटों से 6 लाख रुपये तथा 20 लाख के सोने-चांदी के जेवरात पुलिस ने बरामद कर लिए। पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि रईस बनने के लिए मो. सनौव्वर ने अपना गिरोह बना लिया। गिरोह में दस से बारह सदस्य शामिल हैं, जो राजधानी के विभिन्न इलाकों में रहकर पॉकेटमारी करते हैं।
दोनों अपराधी अपने बच्चों को राजधानी के नामी पब्लिक स्कूल में पढाते हैं। पिकनिक मनाने के लिये देश के कोने कोने में वे हवाईजहाज से जाते थे। पुलिस को गोवा के एयर टिकट भी उसके घर से बरामद हुए। दोनों ने अपने रहने के लिए 15 से 20 हजार प्रतिमाह में फ्लैट किराये पर ले रखा है। वे पडोसियों पर अपने पैसे का रौब झाडने के लिये महंगे सनग्लासेज, ब्रांडेड कपडे, जूते आदि ही पहना करते थे। कार से चलते थे। कभी पडोसियों को शक भी नहीं हुआ कि ऐसी शानोशौकत के लिये वे पाकेटमारी जैसी ओछी हरकत करते होंगे।