मुजफ्फरपुर कांड में ब्रजेश के दोस्तों को ढूंढ रही है CBI, फेसबुक से DELETE कर रहे हैं लोग अपना फोटो

मुजफ्फरपुर कांड में ब्रजेश के दोस्तों को ढूंढ रही है CBI, फेसबुक से DELETE कर रहे हैं लोग अपना फोटो

By: Roshan Kumar Jha
August 10, 13:30
0
....

PHOTO : मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में कई और बड़े रसूखदार नेता, पत्रकार, समाज सेवक सहित अन्य लोग भी फंस सकते हैं। बताया जाता है कि सीबीआई उन तमाम लोगों को तलाश रही है जिसका ब्रजेश ठाकुर के साथ अच्छा संबंध रहा है। जो ब्रजेश ठाकुर के जीवन में काफी हद तक पहुंच रखता हो। जानकारों की माने तो अभी तो मात्र शुरूआत है। सीबीआई के रडार पर कई ओहदे वाल लोगों का नाम शामिल है।

ताजा अपडेट अनुसार बालिका गृह कांड के मुख्य आरोपित ब्रजेश के साथ अपनी फोटो वायरल होते देख कई रसूखदारों के हलक सूख रहे हैं। किसी समय शान से ब्रजेश के साथ ली गई फोटो को लेकर अब कइयों की नींद उड़ गई है तो कई शर्मसार हैं। कुछ इस डर में हैं कि फोटो में साथ देखकर कहीं सीबीआई की रडार पर न आ जाए जबकि कुछ को समाज में छवि धूमिल होने की भी चिंता सता रही है।

सीबीआई ने भी सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीरों को इकट्ठा करना शुरू कर दिया है। सूत्रों के अनुसार, वायरल तस्वीरों को इकट्ठा करने के बाद पीड़िताओं से उनकी पहचान भी कराई जा रही है। तीन अखबारों के मालिक व दर्जन पर संस्था चलाने वाले ब्रजेश के साथ कई मौकों पर ली गई शहर के रसूखदारों की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इसमें सरकारी आयोजन, शादी समारोह, पार्टी आदि के अवसर के फोटो शामिल हैं। समय-समय पर ली गई इन तस्वीरों को बालिका गृह कांड की जांच के बीच वायरल किया जा रहा है। कई लोगों ने तो अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर ब्रजेश के साथ पोस्ट की गई तस्वीरें हटा ली हैं। हालांकि, कई लोगों की तस्वीरें अब भी उनके अकाउंट पर हैं। इनमें कई सफेदपोश व अफसर भी शामिल हैं।

नीतीश-लालू के साथ ब्रजेश का फोटो हुआ था वायरल : मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड उजागर होने के बाद कई बड़े-बड़े नेताओं का फोटो ब्रजेश के साथ वायरल हुआ था। एक में जहां सीएम नीतीश कुमार और ब्रजेश ठाकुर को एक मंच पर दिखाया गया था। वहीं दूसरे में राजद नेता ओर पूर्व सीएम लालू प्रसाद और ब्रजेश ठाकुर को एक दूसरे का हाथ पकड़े हुए दिखाया गया था। इसी बीच सोशल मीडिया पर पत्रकारों के उस फोटो पर विवाद हुआ था जिसमे पटना के कई जाने माने वरिष्ठ पत्रकार शामिल थे। बताया जाता है कि यह फोटो लोक सभा सदन की कार्यवाही देखने दिल्ली गए पत्रकारों की टोली का है। इस फोटो पर विवाद होने के बाद वरिष्ठ पत्रकार कन्हैया भेलारी को स्पष्टीकरण तक देना पड़ा था।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments