बड़ी लापरवाही, लोन लिया महज 30 हजार का और सूद देना पड़ रहा एक लाख से अधिक पर

बड़ी लापरवाही, लोन लिया महज 30 हजार का और सूद देना पड़ रहा एक लाख से अधिक पर

By: Sudakar Singh
June 13, 06:18
0
....................

Chapra : बैंक की गड़बड़ी का खामियाजा उतर बिहार ग्रामीण बैंक के कोहड़ा शाखा से जुड़ी वरदान स्वयं सहायता समूह की महिलाएं भुगत रही हैं। समूह के बचत खाते में जमा-निकासी में गड़बड़ी मिलने के बाद सात वर्ष से महिलाएं बैंक का चक्कर लगा रही हैं। कोहड़ा स्वयं सहायता समूह की अध्यक्ष मालती सिन्हा और कोषाध्यक्ष मालती देवी ने बताया कि 15 जून 2010 को समूह ने 30 हजार रुपए का लोन लिया था। 


बैंक कर्मियों ने सितंबर 2010 में 30 हजार की जगह लोन की राशि 1 लाख 04 हजार 912 रुपए खाते में चढ़ा दी। तब से 30 हजार की जगह एक लाख 4 हजार 912 रुपए का ब्याज देना पड़ रहा है। तब से सुधार के लिए महिलाएं परेशान हैं। लेकिन बैंक प्रबंधन बेपरवाह बना है। 
बता दें कि महिलाओं ने 24 जून 2011 को 13 हजार रुपए जमा किया। बैंक कर्मियों ने ऋण खाता एसएचजी 45 की जगह एसएचजी 46 में जमा कर दिया। इसका वाउचर शाखा कार्यालय में उपलब्ध है। 


इसके बाद भी जमा राशि को ऋण ली गई राशि से नहीं घटाया गया। अध्यक्ष व कोषाध्यक्ष का कहना है हम केवल 30 हजार रुपए लोन चुकाने के लिए जिम्मेदार हैं न कि एक लाख के। अभी तक 62 हजार रुपए जमा किए जा चुके हैं लेकिन खाते में 29 हजार 946 रुपए का ही समायोजन किया गया है। बैंक कर्मियों की गड़बड़ी के कारण 13 हजार रुपए वापस नहीं किए गए। खाते में क्लियर बैलेंस 18629 रुपए ही दिखाया जा रहा है। बार-बार कहने के बाद भी शाखा द्वारा हिसाब नहीं किया जा रहा है। इस संबंध में क्षेत्रीय कार्यालय व जिला समाहर्ता को भी आवेदन दिया गया है।  

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments