बिहार में महानवमी के बाद दशहरा धूमधाम से मनाने की तैयारियां जारी

PATNA : आज पूरे प्रदेश में मां दुर्गा की पूजा के साथ साथ महानवमी भी धूमधाम से मनाई गयी। अब बिहार में दशहरा मनाने की तैयारियां शुरू हो गयी हैं। बिहार समेत पूरे देश में दशहरा कल मनाया जाएगा। पटना में मंगलवार को रावण वध की तैयारियां चल रही हैं।

इससे पहले शक्तिपीठ मां मंगलागौरी मंदिर, मां दु:खहरणी, मां बागेश्वरी, मां शीतला, मां कामख्या, मां बांग्ला, बेलागंज काली मंदिर में घंटों लाइन में खड़े होकर भक्तों ने माता का दर्शन किया। हाथों में पूजा की डलिया और जुबां पर माता के जयकारे खूब लगे। महाअष्टमी को लेकर शक्तिपीठ मां मंगलागौरी मंदिर में रविवार की रात 11:00 बजे से ही कतार लगने लगी थीं।

शहर के गांधी मंडप में श्री दशहरा कमेटी की बैठक रविवार को अध्यक्ष रामजी प्रसाद अग्रवाल की अध्यक्षता में हुई, जिसमें रावण वध की तैयारी की समीक्षा की गई। आयोजकों ने बताया कि पटना में मंगलवार की शाम 05:00 बजे से रावण वध कार्यक्रम शुरू होगा। कृषि सह पशुपालन मंत्री कुमार, प्रमंडलीय आयुक्त असंगबा चुबा आओ, पुलिस महानिरीक्षक पारस नाथ, डीएम अभिषेक सिंह, एसएसपी राजीव मिश्रा शामिल होंगे।श्री दशहरा कमेटी द्वारा रावण, कुंभकर्ण व मेघनाद के पुतले को लगभग तैयार कर लिया गया है। गांधी मैदान में बैरिकेडिंग एवं लाइट का कार्य भी पूरा हो चुका है। कार्यक्रम के दौरान पटना गांधी मैदान तक के मार्ग पर केवल एंबुलेंस व आपातकालीन सेवाओं के वाहन ही चलेंगे।

उल्लेखनीय है कि पूजा के बाद दशहरा से प्रतिमाओं का विसर्जन शुरू हो जाएगा लेकिन इस बार गंगा और उसकी सहायक नदियों में विसर्जन पर प्रतिबंध है। इसका उल्‍लंघन करने वालों पर 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा। यह आदेश नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) के निर्देश पर प्रशासन ने जारी किया है।