झारखंड कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने दिया इस्तीफा

RANCHI : आज झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने अपने पद से त्यागपत्र दे दिया है। उन्होंने अपना त्यागपत्र राष्ट्रीय अध्यक्ष पद छोड़ चुके राहुल गांधी को सौंपा है। लम्बे समय से प्रदेश के नेता अजय कुमार के इस्तीफे की मांग कर रहे थे। इसको लेकर पार्टी के नेताओं में जम कर वि’वाद और हा’थापाई भी हुई थी।

अपने पत्र में उन्होंने प्रदेश में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के लिए कुछ वरिष्ठ नेताओं को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने लिखा कि सुबोधकांत सहाय, प्रदीप बलमुचू, चंद्रशेखर दुबे और फुरकान अंसारी जैसे नेता पार्टी हित से ज्यादा व्यक्तिगत लाभ के लिए काम कर रहे हैं। इस पत्र से राज्य में कांग्रेस की अंदरूनी ल’ड़ाई भी सबके सामने आ गयी है।

लोकसभा चुनाव के बाद से चल रहा है झारखंड कांग्रेस में गतिरोध-

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव हारने के बाद से कांग्रेस में लगातार आपसी कल’ह मची हुई है। कांग्रेस में दो गुट बन गए हैं जिनमे से एक प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार का समर्थन करता है तो दूसरा गुट उनका विरोध कर रहा है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता विधानसभा चुनाव नये प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में लड़ना चाहते हैं जबकि अब तक वर्तमान अध्यक्ष डॉ अजय कुमार इस्तीफा नहीं दे रहे थे। बता दें कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस सूबे में सात सीटों पर चुनाव लड़ी थी । जिसमे कांग्रेस मात्र सिंहभूम की सीट ही जीत पाई थी। पहले भी पार्टी के कई अन्य नेता डॉ अजय कुमार को भाजपा का एजेंट बताकर उन्हें हटाने की मांग कर चुके हैं। इस करारी हार के लिए पार्टी का एक धड़ा डॉ अजय कुमार के नेतृत्व को जिम्मेवार बता रहा था और उन्हें प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाना चाहता था।