BJP की प्रदेश उपाध्यक्ष पुतुल कुमारी ने दिखाए बागी तेवर, बांका से निर्दलीय लड़ने का किया फैसला

PATNA: लोकसभा चुनाव के चलते हुए टिकट बंटवारे के बाद नेताओं की नाराजगी देखने को मिल रही है। इस नाराजगी के चलते कई नेताओं ने निर्दलीय ही चुनाव मैदान में उतरने का फैसला कर लिया है तो कइयों में पार्टी बदलकर अपनी दावेदारी पक्की कर ली है।

रविवार को टिकट न मिलने पर बीजेपी की प्रदेश उपाध्यक्ष पुतुल कुमारी ने  बांका से निर्दलीय लड़ने का ऐलान कर दिया। इस दौरान पुतुल कुमारी ने कहा कि वह सोमवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगी। इसी के साथ ही उन्होंने आगे कहा कि “मैं असली भाजपाई हूं और इसलिए बीजेपी से इस्तीफा देने का कोई सवाल ही नहीं है।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

बता दें कि बांका सीट बंटवारे के बाद जेडीयू के खाते में चली गई। जिसके बाद पुतुल कुमारी देवी की उम्मीदों पर पानी फिर गया। बांका सीट जेडीयू के खाते में जाने के बाद पुतुल कुमारी ने फैसला किया वह निर्दलीय ही चुनावी मैदान में उतरेंगी। इस बार जेडीयू ने बांका सीट से गिरधारी यादव को अपना उम्मीदवार बनाया है।

वहीँ अगर बात आरजेडी की करें तो उसमें भी टिकटों को लेकर नेताओं में नाराजगी देखने को मिल रही है। कृष्णा यादव को आरजेडी से टिकट नहीं मिलने पर उन्होंने सीपीआई का दामन थाम लिया और खगड़िया से सीपीआई की उम्मीदवार बनी हैं। कृष्णा यादव के इस फैसले से आरजेडी की हाईकमान बहुत नाराज था। जिसके चलते ये फैसला किया गया।

जिसके बाद आरजेडी से निष्कासित होने पर कृष्णा यादव ने भी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। मीडिया से बातचीत करते हुए कृष्णा यादव ने कहा है कि पार्टी ने उनके खिलाफ गलत फैसला लिया है। लेकिन फिर भी मैं पार्टी के आलाकमान के फैसले को स्वागत करती हूं। मीडिया से बात करते हुए कृष्णा यादव ने आरजेडी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि अब आरजेडी धनकुबेरों को टिकट बांट रही है।