राबड़ी देवी ने स्वीकार की प्रशांत किशोर की चुनौती, कहा-बहस करने को तैयार,IG से ले लें अनुमति

PATNA : लालू यादव की पत्नी राबड़ी देवी ने जेडीयू उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर की चुनौती को स्वीकार कर लिया है। राबड़ी देवी ने कहा कि उन्हें प्रशांत किशोर की चुनौती मंजूर है। अगर वह बहस करना चाहते हैं तो इसके लिए उन्हें पहले रांची के जेल आईजी से अनुमति लेनी पड़ेगी। राबड़ी देवी के इस बयान से एक बार फिर मामला तूल पकड़ता जा रहा है।

दरअसल, राबड़ी देवी ने दावा किया है कि नीतीश कुमार महागठबंधन में आना चाहते हैं और इसके लिए उन्होंने प्रशांत किशोर को करीब 5 बार लालू जी के पास बात करने के लिए भेजा था। राबड़ी देवी ने कहा कि प्रशांत किशोर में लालू जी से कहा कि नीतीश कुमार को एक बार फिर से महागठबंधन में शामिल कर ली जिए। इसको लेकर हमने नीतीश कुमार पर विश्वास नहीं किया और मैंने खुद प्रशांत किशोर को अपने आवास से बाहर निकाला था।

QUAINT MEDIA

राबड़ी देवी के इस बयान के बाद प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर लालू यादव को खुली चुनौती देते हुए कहा कि लालू जी जब चाहे मीडिया में आकर बात कर सकते हैं। इसी को लेकर अब राबड़ी देवी ने पीके की चुनौती स्वीकार करते हुए बहस करने की बात कही है। अब आगे देखना है कि प्रशांत किशोर राबड़ी देवी द्वारा स्वीकार की गई चुनौती का क्या जवाब देते हैं ?

राबड़ी देवी के इसी बयान को लेकर बिहार की सियासत का पारा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। इस बयान को लेकर सभी दलों द्वारा अपनी अपनी प्रतिक्रियाएं व्यक्त की जा रही है। जहाँ एक तरफ एनडीए के दल इस बयान को झूठा बता रहे हैं तो वहीँ महागठबंधन के दल राबड़ी देवी के बयान पर नीतीश कुमार पर निशाना साध रहे हैं।