राबड़ी देवी ने खेला जाति कार्ड, कहा-नीतीश ने यादवों को बदनाम करने के लिए भेजा राजबल्लभ को जेल

PATNA : बिहार में लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों द्वारा जमकर प्रचार किया जा रहा है। अब लालू यादव की पत्नी और राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने भी चुनाव अभियान शुरू कर दिया है। गुरूवार को अपनई एक चुनावी सभा में राबड़ी देवी ने सीएम नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला और इस दौरान राबड़ी देवी जाति कार्ड खेलने से भी नहीं रुकीं ।

गुरुवार को राबड़ी देवी ने नवादा लोकसभा सीट से अपना चुनावी अभियान शुरू करते हुए आरजेडी की उम्मीदवार विभा देवी के समर्थन में वोट मांगे। बता दें कि विभा देवी पूर्व आरजेडी एमएलए बलात्कार के दोषी राजबल्लभ यादव की पत्नी हैं। चुनावी प्रचार के दौरान राबड़ी देवी ने जाति कार्ड खेलते हुए राजबल्लभ को जेल भेजकर नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली बिहार सरकार पर “यादवों की छवि खराब करने” का आरोप लगाया।

चुनावी सभा में राबड़ी देवी ने कहा कि नीतीश सरकार ने राजबल्लभ को झूठा फंसाकर और जेल भेजकर यादवों की छवि खराब करने की कोशिश की है। मैं लोगों से अपील करती हूं कि वे आरजेडी उम्मीदवार विभा देवी को वोट दें और उन्हें चुनाव जिताएं।

बता दें कि आरजेडी पूर्व एमएलए राजबल्लभ यादव के साथ अन्य 4 को पटना की एक अदालत ने दिसंबर, 2016 में एक नाबालिग के साथ बलात्कार मामले में दोषी ठहराया। जिसके बाद कोर्ट ने उन्हें किसी भी चुनाव लड़ने से अयोग्य ठहराया। आरजेडी इसके बाद बिहार की नवादा सीट से राजबल्लभ की पत्नी विभा देवी को मैदान में उतारा है।

इसी के साथ ही राबड़ी देवी ने नीतीश कुमार के साथ ही केंद्र की मोदी सरकार पर भी बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि उनके परिवार को भी केंद्र सरकार ने आईआरसीटीसी घोटाले में झूठा फंसाया है। इस दौरान उन्होंने कहा “पूरा देश जानता है कि लालू जी और उनका परिवार निर्दोष है। सभी लोग सच्चाई जानते हैं। भारतीय रेलवे के अधिकारियों ने खुद कहा है कि जब लालू जी रेल मंत्री थे, तब उनके विभाग में कोई भ्रष्टाचार नहीं हुआ।