‘गरीब के आह बेकार ना जाई अबकी बार इनका के मजा चखाई’-राबड़ी देवी

PATNA: बिहार में राजनीतिक गलियारों में चुनाव के चलते गहमागमी बढ़ती ही जा रही है। लालू परिवार द्वारा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा जा रहा है। कभी तेजस्वी यादव तो कभी राबड़ी देवी द्वारा मोर्चा संभाला जा रहा है।

राबड़ी देवी सोशल मीडिया द्वारा अपने विरोधियों पर जमकर हमला बोल रही हैं। शुक्रवार को सुबह राबड़ी देवी ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री पर भोजपुरी अंदाज में लिखते हुए निशाना साधा है। राबड़ी देवी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि “ई हवा-हवाई सरकार गरीब के गैस के कनेक्शन दे के आपन पीठ थपथपलईस बाकी दुबारा गैस भरवावे के कौनो इंतजाम नईखे कईलस और कोढ में खाज के काम करता। गैस के 1100 रू दाम बढ़ा के रसोईघर के बदरंग कर देलस। गरीब के घर में लागल सिलिंडर धईल रह गेईल। गरीब के आह बेकार ना जाई अबकी बार इनका के मजा चखाई।”

राबड़ी देवी इससे पहले भी कई बार पीएम मोदी पर ट्वीट कर निशाना साध चुकी हैं। इस बार उन्होंने गैस सिलेंडर के बढ़ते दामों को लेकर भोजपुरी अंदाज में जोरदार हमला बोला है। जिस तरह से लालू परिवार द्वारा पीएम मोदी और सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा जा रहा है उससे बिहार की सियासत में हलचल तेज हो गई है।

बिहार की सियासत में इससे पहले लालू यादव की किताब को लेकर भी काफी हंगामा हो चुका है। लालू यादव पर लिखी इस किताब में बताया गया कि नीतीश कुमार ने महागठबंधन से अलग होने के 6 महीने बाद ही दोबारा महागठबंधन मन शामिल होने की पहल की थी। लालू यादव की ओर से दावा किया गया था कि नीतीश कुमार ने प्रशांत किशोर को उनके आवास पर यह प्रस्ताव भेजा।

लालू यादव के साथ ही उनकी पत्नी और बेटे तेजस्वी यादव ने भी नीतीश कुमार पर महागठबंधन में दोबारा शामिल होने की बात कही। राबड़ी देवी ने तो इतना तक कह दिया कि उन्होंने नीतीश कुमार पर विश्वास नहीं किया और प्रशांत किशोर को खुद अपने आवास से बाहर निकला था। वहीँ इसके बाद जीतनराम मांझी ने अब रम विलास पासवान को लेकर ये बयान दे दिया। मांझी ने इससे पहले भी चौंकाने वाला बयान देते हुए कहा था कि जेडीयू और आरजेडी दोनों का विलय होने वाला था।