RJD और JDU की मिलीभगत वाले बयान पर रघुवंश प्रसाद ने मा’री पलटी

PATNA : RJD के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने पहले कहा था कि जनता दल यूनाइटेड को महागठबंधन में साथ लाने की कोशिश अंदरखाने शुरू हो चुकी है लेकिन अब वो अपने बयान से पलट गये हैं। रघुवंश को तेजस्वी ने तलब भी कर लिया और उनके बयान से आरजेडी के संभावित नु’कसान का समीकरण समझाया। इसके बाद उन्होंने कहा कि मेरे बयान का गलत अर्थ निकाला गया। अब  रघुवंश प्रसाद अपने बयान पर आज सफाई देंगे।

आपको बता दें कि राजद के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद ने कल कहा था कि जदयू और राजद में अंदरखा’ने बात चल रही है। बीजेपी मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को समा’प्त करना चाहती है इसलिए नीतीश कुमार फिर से महागठबंधन के हिस्‍सा होंगे। इस बयान के बाद बिहार की राजनीति में हलच’ल तेज हो गयी और सभी पार्टियों ने प्रतिक्रियाएं दीं। भाजपा ने कहा कि उनकी उम्र लगातार बढ़ रही है और ऐसे बयान उनकी बढ़ती उम्र का परिणाम हैं।

जेडीयू ने भी बयान को खा’रिज करते हुए कहा कि राजद भ्र’म फैलाकर अपना राजनीतिक हित साधना चाह रहा है। रघुवंश ने दावा किया था कि नीतीश को दिल्ली जाने का इशारा किया जा रहा है। किंतु आरजेडी ऐसा आंदो’लन खड़ा करेगी कि हम सब साथ आ जाएंगे। रघुवंश के दावे को सिरे से खारिज करते हुए तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार के साथ गठबंधन का कोई सवाल ही नहीं पैदा होता। महागठबंधन को छोड़कर जाने वाले दोबारा इसमें शामिल नहीं हो सकते हैं। हालांकि रघुवंश के बयान का लगभग समर्थन करते हुए प्रेमचंद ने कहा था  कि सियासत संभावनाओं का खेल है। हम अभी से कुछ नहीं कह सकते हैं कि आगे क्या होगा।