रामविलास पासवान निर्विरोध बने राज्यसभा सांसद,रविशंकर प्रसाद के इस्तीफे से खाली हुई थी सीट

PATNA: लोकजनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय उपभोक्ता खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान को आज बिहार की राज्यसभा सीट के लिए निर्विरोध रुप से चुन लिया गया। इसके बाद वे अपनी पत्नी के साथ जीत का प्रमाण पत्र लेने के लिए बिहार विधानसभा पहुंचे।

आपको बता दें कि इस सीट पर रामविलास पासवान से पहले कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, राज्यसभा के सांसद थे लेकिन हाल ही संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में पटना साहिब से रविशंकर प्रसाद की जीत के बाद यह सीट खाली हो गयी थी। यही कारण है कि अपने हिस्से की इस सीट पर भाजपा ने लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान को उप-चुनाव में उम्मीदवार के रुप खड़ा किया।

बिहार के उपमुख्यमंत्री  सुशील कुमार मोदी ने किया ट्वीट-

आपको बता दें कि इस लोकसभा चुनाव में लोक जनशक्ति पार्टी, बिहार के कुल 40 लोकसभा सीटों में से 6 सीटों पर एनडीए के साथ गठबंधन बनाकर चुनाव लड़ी। इतना ही नहीं, सभी 6 सीटों पर शानदार जीत भी हासिल की। इसके बाद रामविलास पासवान को केन्द्र में मंत्री पद दिया गया। इतना ही नहीं, भारतीय जनता पार्टी ने अपने हिस्से की राज्यसभा सीटों पर रामविलास पासवान को राज्यसभा सांसद बनायी क्योंकि वे लोकसभा का चुनाव नहीं लड़े और मंत्री बने रहने के लिए किसी सदन का सदस्य होना जरुरी है।

गौरतलब है कि केंद्रीय उपभोक्ता खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री बनने के बाद रामविलास पासवान ने एक बड़ा फैसला लिया है। जिस तरह देश में वन नेशन वन इलेक्शन की बात की जा रही है। उसी तरह रामविलास पासवान ने वन नेशन वन राशन कार्ड बनाने की पहल करने जा रही है। उन्होंने कहा कि एक राष्ट्र एक राशन कार्ड होने के कारण उपभोक्ता, पूरे देश में कहीं से भी अपने अधिकार का राशन खरीद सकता है। इस पहल के कारण डु’प्लीकेट राशन कार्ड बनाने वालों पर भी लगाम लगायी जा सकेगी और धो’खाधड़ी लगभग रुक जायेगी।