बिहार के युवा ने विश्व में किया देश का नाम रोशन, जीता ब्रिक्स-युवा नवोन्मेषक पुरस्कार

PATNA: बिहार के युवाओं की बात करें तो ये हर जगह देश का नाम रोशन करने में आगे रहते हैं। बिहार के युवाओं की प्रतिभा का लोहा देश के अन्य राज्य भी मानते हैं। इसी का एक उदाहरण और देखने को मिला है।

इस बार बिहार के युवा ने विश्व पटल पर देश के साथ-साथ अपने राज्य का नाम भी रोशन किया है। बिहार के युवा वैज्ञानिक रवि प्रकाश ने ‘ब्रिक्स-युवा नवोन्मेषक पुरस्कार’ में प्रथम स्थान हासिल किया है।

आईसीएआर-नेशनल डेयरी रिसर्च इंस्टीट्यूट (एनडीआरआई) के पीएचडी छात्र प्रकाश चौथे ब्रिक्स- युवा वैज्ञानिक मंच, 2019 के लिये विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा देश की ओर से ब्राजील भेजे गए 21 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा रहे। रवि प्रकाश के प्रथम पुरस्कार जीतने की जानकारी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने भी ट्वीट कर दी है।

रवीश कुमार ने अपने ट्वीट में लिखा है कि भारत ने ब्राजील में छह से आठ नवंबर, 2019 के दौरान ब्रिक्स युवा वैज्ञानिक मंच के सम्मेलन में प्रथम पुरस्कार जीता. आईसीएआर-एनडीआरआई के पीएचडी छात्र रवि प्रकाश को यह पुरस्कार मिला.’ इस प्रौद्योगिक के जरिये कच्चे दूध का तापमान आधे घंटे में 37 डिग्री सेल्सियस से सात डिग्री सेल्सियस किया जा सकता है।