मंत्री बनने के बाद पहली बार पटना पहुंचे रवि शंकर प्रसाद

PATNA: नई मोदी सरकार में मंत्री बनने के बाद रवि शंकर प्रसाद आज अपने लोकसभा क्षेत्र पटना पहुंचे। वे 30 मई को NDA की नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में गये थे , मंत्री पद की शपथ लेने के बाद वे आज पहली बार पटना आये जहां पर कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया।

बिहार की पटना साहिब संसदीय सीट से जीत हासिल करने वाले रवि शंकर प्रसाद ने 30 मई को मंत्री पद की शपथ ली थी और 31 मई को विभागों के बंटवारे में उन्हें कानून और संचार मंत्रालय का जिम्मा सौंपा गया। रवि शंकर प्रसाद अब तक अपने मंत्रालय को संभालने और अन्य कार्यों को लेकर दिल्ली में ही व्यस्त थे औऱ आज वे अपने शहर पटना लौटे हैं। उन्होंने ट्वीट करते हुए यह जानकारी भी दी कि मोदी सरकार में मंत्री पद की शपथ लेने के बाद आज मैं अपने लोक सभा क्षेत्र पटना साहिब जा रहा हूँ जहाँ की जनता ने मुझे इतना प्रेम और समर्थन दिया। साथ ही बताया कि जन सेवा ही जनार्दन सेवा होती है और इसी विश्वास के साथ जन सेवा की अविरल गंगा बहती रहेगी।

बता दें कि  रवि शंकर बीजेपी के बडे नेताओं में गिने जाते हैं। नई मोदी सरकार में उन्हें कानून और संचार मंत्री बनाया गया है। वे पहले भी कानून और संचार दोनों ही मंत्रालयों  को संभाल चुके हैं। इन दोनों ही विभागों की उन्हें अच्छी जानकारी है। रविशंकर प्रसाद पटना साहिब  सीट से चुनाव लडे थे और यहां से वे शत्रुघ्न सिन्हा को 284657  वोटों से हराकर सांसद बने हैं।

मध्यम वर्गीय परिवार में जन्मे रवि शंकर प्रसाद को राजनीति विरासत में मिली है। प्रसाद के पिता ठाकुर प्रसाद राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के प्रचारक और जनसंघ के संस्थापक सदस्यों में से एक थे।  स्व. ठाकुर प्रसाद भी वर्ष 1977 में कर्पूरी ठाकुर मंत्रिमंडल में उद्योग मंत्री  रहे थे।