दधीचि देहदान समिति के कार्यक्रम में बोले रविशंकर, धारा 370 का हटना बदलते भारत का संकेत

PATNA : केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 का हटाया जाना ये दर्शाता है कि अब भारत बदल रहा है। बदलते हिन्दुस्तान का इससे बड़ा उदाहरण कोई और नहीं हो सकता है। उन्होंने कहा कि भारत नई दिशा में बढ़ चुका है और आने वाले समय में यह दुनिया की महाशक्ति बनेगा। जब मन से काम करना हो तो हिम्मत और साहस की जरुरत होती है। हमने धारा 370 को हटाने का काम किया तो किसी को कानो-कान खबर नहीं हुई।

आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद दधीचि देहदान समिति के एक सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान बोल रहे थे। उन्होंने महर्षि दधीचि के त्याग को भी याद किया। रविशंकर ने कहा कि धारा 370 ने जम्मू-कश्मीर की पूरी व्यवस्था को मजाक बना दिया था। वहां देश का कोई कानून लागू नहीं था। उन्होंने सवाल उठाने वालों से पूछा कि जब वहां से कश्मीरी पंडितों को भगाया जा रहा था तब वे खामोश क्यों थे? वहां आतंकवाद बढ़ता जा रहा था तब चुप कैसे थे?

रविशंकर प्रसाद भी करेंगे नेत्रदान-

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने घोषणा की कि वो भी महर्षि दधीचि की तरह अपने नेत्रों का दान करेंगे। आपको बता दें कि वत्रासुर नामक राक्षस का वध करने के लिए महर्षि दधीचि ने अपनी देह देवताओं को दान कर दी थी। इसी तर्ज पर रविशंकर प्रसाद ने अपने जीवन के बाद अपनी आँखों को दान करने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि अंगदान बड़ी चीज है और इसे देश के आधात्मिक अभियान का हिस्सा बनाना होगा। राजनीतिक लोगों के इसे बड़ी जिम्मेवारी के साथ अभियान बनाना भी बड़ी बात है। उन्होंने कहा कि उनके इस संकल्प का उनका पूरा परिवार सम्मान करेगा। वे इस अभियान का हिस्सा बनेंगे और पूरे देश में विभिन्न मंचों पर इसकी चर्चा करेंगे।