पुलिस हिरासत में हुई मौ’त पर राजनीति तेज, राजद ने लगाये सरकार पर आरोप

PATNA : सीतामढ़ी (SITAMADHI) में पुलिस हिरासत में हुई दो कैदियों की मौ’त के बाद राजनीति तेज हो गई है। विपक्षी पार्टी राजद ने इस मामले में सरकार पर निशाना साधा और सवाल उठाये। राजद (RJD) प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने सरकार की भूमिका पर सवाल उठाते हुए कहा कि सरकार के इशारे पर इस घटना को अंजाम दिया गया है। उन्होंने मामले की जांच कराये जाने की मांग की और साथ ही कहा कि स्पीड ट्रायल कर दोषियों को सजा दी जानी चाहिए। 

गौरतलब है कि दो अप’राधियों से जुल्म कबूल कराने के लिए पुलिस ने उन्हें हिरासत में इतनी पि’टाई की, कि दोनों की मौ’त हो गई। मामला सीतामढ़ी जिले का है। पुलिस ने बुधवार की देर रात पूर्वी चंपारण के चकिया से गुरफान और तस्लीम नाम के दो अप’राधियों को गिरफ्तार किया था। उसके बाद दोनों को अपराध कबूल करने के लिए जमकर पीटा गया जिससे उनकी हालत गंभीर हो गई। दोनों की बिगडती हालत देख कर पुलिस के हाथ-पैर फूल गए और आनन्-फानन में उन्हें सीतामढ़ी सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ इलाज के दौरान दोनों अपराधियों की मौ’त हो गई।

इस घटना को जोनल आईजी नैयर हसनैन खान ने गंभीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष चंद्रभूषण सिंह समेत 8 पुलिस कर्मियों को सस्पेंड करने का निर्देश जारी किया। आइजी ने कहा कि  दोषियों पर कार्रवाई की जायेगी। डीआइजी रवींद्र कुमार ने देर रात सीतामढ़ी पहुंच कर मामले की जांच की। अभी पुलिस इस पुरे मामले पर कुछ भी कहने से बच रही है। सीतामढ़ी के सदर डीएसपी ने कहा है कि जब उन्हें गिरफ्तार किया गया था तो बिलकुल स्वस्थ थे, इसलिए अब इस मामले की जाँच की जायेगी। सीतामढ़ी के दिएम रणजीत सिंह ने जांच के आदेश भी दे दिए हैं। डीएम ने कहा है कि सदर एसडीओ के नेतृत्व में पोस्टमार्टम कराया जाएगा और इस प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई जायेगी।

ये भी पढ़ें पुलिस हिरासत में पिटाई से दो अप’राधियों की मौ’त, थानाध्यक्ष समेत 8 सस्पेंड