देश में लगातार बढ़ रही है बेरोजगारी, फिर भी हम कहते हैं कि देश सुरक्षित हाथों में-मनोज झा

PATNA: राजद का National Spokesperson मनोज कुमार झा ने एकबार फिर से नवगठित नरेन्द्र मोदी सरकार को घेरने की कोशिश की है। मनोज ने बेरोजगारी की बढ़ती दरों के आधार पर मोदी सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राष्ट्र मजबूत कन्धों और सुरक्षित हाथों में है। जय हिन्द। उनका यह बयान बेरोजगारी की बढ़ती दरों और सरकार की जुमलेबाजी पर एक तमाचा है।

Tweet of Manoj K Jha

उन्होंने कहा कि Central Statistical Office ने बेरोजगारी पर अपना एक रिपोर्ट प्रकाशित किया है, जिसके अनुसार 2004-05 में ग्रामीण महिलाओं की बेरोजगारी दर 4.1 प्रतिशत था। वही 2017-18 में बेरोजगारी की दर 4.1 से बढ़कर 13.6 प्रतिशत हो गयी है।

ग्रामीण क्षेत्र में शहरों की तुलना में कम बेरोजगारी-

इतना ही नहीं, NSSO data के अनुसार 2005-06 के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में युवा बेरोजगारी की दर 3.9 प्रतिशत थी, जो 2017-18 में साढ़े तीन गुना से ज्यादा बढ़कर 17.4 प्रतिशत तक पहुंच गयी है। शहरी महिलाओं और युवतियों की बेरोजगारी दर वैसे पहले भी बहुत ज्यादा ही थी, लेकिन इस समय और भी बढ़ गयी है। 2005-06 में शहरी महिलाओं की बेरोजगारी दर 14.9 प्रतिशत थी, जो 2017-18 में बढ़कर 27.2 प्रतिशत तक पहुंच गयी है। इस तरह हम देखते हैं कि शहरों में ग्रामीण क्षेत्रों से कहीं ज्यादा बेरोजगारी कायम है, जबकि पहले दावा किया जाता था कि शहरों में ग्रामीण क्षेत्रों से बेरोजगारी की दर कम होती है, लेकिन हाल ही प्रकाशित हुई रिपोर्ट ने पुराने दावों को झूठा साबित कर दिया है।

शहरी युवाओं की बेरोजगारी दर भी लगातार बढ़ रही है। 2005-06 में शहरी क्षेत्रों में युवाओं की बेरोजगारी की दर 8.8 प्रतिशत थी, जो 2017-18 8. 8 से बढ़कर 18.7 प्रतिशत पर पहुंच गयी। आपको बता दें कि कुछ बुध्दिजीवियों के द्वारा ऐसा दावा किया जाता है कि मोदी के शासन-काल में बेरोजगारी की दर पिछले 40 सालों में सबसे ज्यादा है।

आपको बता दें कि मनोज कुमार झा ने राजद पार्टी की तरफ से राज्यसभा सासंद और राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं।