गोडसे को देशभक्त बताना गांधी जी का अपमान: शरद यादव

PATNA:  मध्य प्रदेश की भोपाल सीट से भारतीय जनता पार्टी (BJP) की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर (SADHVI PRAGYA THAKUR) के नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहे जाने वाले बयान को लेकर शरद यादव (SHARAD YADAV) ने बीजेपी पर पलटवार करते हुए कहा है कि  गोडसे को देशभक्त कहना महात्मा गांधी का अपमान है। साथ ही यादव ने भाजपा द्वारा भोपाल से  प्रज्ञा ठाकुर जैसी उम्मीदवार को टिकट देना लोकतंत्र का अपमान बताया।

देश में लोकसभा चुनाव में  6 चरणों में मतदान की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और अंतिम चरण के मतदान में भी दो ही दिन बाकी हैं लेकिन नेताओं में जुबानी जंग बंद होने का नाम नहीं ले रही है। फिर एक बार मध्य प्रदेश की भोपाल सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने गोडसे को देशभक्त बताकर  फिर से विपक्ष को हमला करने का मौंका दे दिया है।

इसको लेकर जदयू  के बागी नेता शरद यादव ने  प्रज्ञा ठाकुर और उनकी पार्टी पर निशाना शाधा है।  शरद यादव ने ट्वीट के जरिए कहा है कि ‘एक बार फिर साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहकर महात्मा गांधी का अपमान किया। यह भाजपा का असली चेहरा है जो घृणा और हिंसा की विचारधारा में विश्वास करता है। भोपाल से ऐसे उम्मीदवार को टिकट देना भी देश में लोकतंत्र का अपमान है’।

बता दें कि इससे पहले गोडसे को लेकर कमल हासन भी विवादित बयान दे चुके हैं हासन ने गोडसे को सबसे पहला हिन्दू आतंकवादी बताया था।  इसी की प्रतिक्रिया में अब प्रज्ञा ठाकुर ने कह डाला कि नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, देशभक्त हैं और देशभक्त रहेंगे। इससे पहले भी  प्रज्ञा ठाकुर अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चाओं में रहीं हैं। 

इसी के साथ ही भाजपा के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी कमल हासन के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। गिरिराज सिंह ने कहा था कि कमल हासन जिस पत्तल में खाते हैं उसी में छेद करते हैं।