गया में शत्रुघ्न सिन्हा- पिछले 5 साल सिर्फ जुमलेबाजी हुई, सच कहना बगावत है तो हाँ हम बागी हैं

PATNA : गया में चुनाव प्रचार के आखिरी दिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी रैली को संबोधित करने पहुंचे। उनके साथ अभी हाल ही में भाजपा छोड़ कर कांग्रेस में शामिल हुए शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) भी थे। शत्रुघ्न सिन्हा ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले 5 साल तक सिर्फ जुमलेबाजी हुई। मैंने सच बोलने की कोशिश की तो मुझे सजा दी गई। उन्होंने कहा कि हमने नोटबंदी के खिलाफ आवाज उठाई क्योंकि इससे गारेब लोग तबाह हो गए। महिलाओं ने पैसे बचा कर रखे थे सब चले गए। मजदूरों की नौकरियां छीन गई। हमने कहा था पार्टी से कि ये जो आपने काम किया है वो जनता और देश की मर्ज़ी के खिलाफ किया है लेकिन मेरी बात नहीं सुनी गई। 

पटना साहिब से कांग्रेस के उम्मीदवार शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि हमने जीएसटी की आलोचना की क्योंकि ये सही तरीके से लागू नहीं किया गया जिससे छोटे उद्द्योगों की कमर टूट गई। लेकिन मेरी बात को बगावत समझा गया। उन्होंने कहा कि अगर सच कहना बगावत है तो हाँ हम भी बागी हैं। शत्रुघ्न सिन्हा पहले भाजपा में होते हुए भी विपक्षी पार्टियों के साथ मंच साझा किया करते थे लेकिन अब वो कांग्रेस में शामिल हो गए हैं तो उन्होंने चुन चुन कर भाजपा और नरेंद्र मोदी की सरकार पर हमले किये।

quaint media

 

उन्होंने कहा कि हमने कई बार पार्टी और सरकार को सही सलाह देने की कोशी की लेकिन वो पार्टी और सरकार सिर्फ एक आदमी की सर्कार बन गई थी और पार्टी सिर्फ दो लोगों की। सरकार तानाशाही की तरफ बढ़ रही थी इसलिए हमने अलग होने का फैसला कर लिया। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी की जमकर तारीफ़ की। गया से उम्मीदवार जीतन राम मांझी को गरीबों का मसीहा बताते हुए लोगों से उन्हें वोट देने की अपील की। गया में 11 अप्रैल को वोट डाले जायेंगे और मांझी का मुकाबला जेडीयू उम्मीदवार विजय मांझी से है।