बाढ़ के बाद मिली थोड़ी राहत, पटना की कई जगहों से पानी हटाया गया

PATNA : बिहार के कई हिस्सों से बाढ़ का ख’तरा कम होने लगा है। खबरों के मुताबिक पटना की 80 फीसदी जगहों से पानी घटने लगा है। राजेंद्रनगर के जिन इलाकों में अब भी जलज’माव है, वहां संप चलाकर पानी निकालने की कवायद तेज कर दी गई है।

नगर निगम की ओर से हर अंचल में डीजल पंपों के सहारे निचले इलाकों से पानी लिफ्ट कराया जा रहा है। वहीं, सकर मशीन के जरिए लिफ्ट किए गए पानी को सोखकर मुख्य ड्रेन तक छोड़ने की भी कवायद जारी है। सरकार की ओर से लगातार सभी 39 संप हाउस का परिचालन किया जा रहा है।

बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए राज्य सरकार द्वारा भी पहल की जा रही है। बीमारी से बचने के लिए स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि पटना में महामा’री फैलने की संभावना बहुत कम है। लेकिन राज्य में डेंगू का खतरा बढ़ गया है। PMCH की रिपोर्ट के मुताबिक डेंगू के चलते एक मरीज की मौ’त की पुष्टि हुई है।

वहीं पीएमसीएच की रिपोर्ट के मुताबिक अबतक 417 मरीजों में डेंगू का पॉजिटिव वायरस पाया गया है।शुक्रवार को सामने आई रिपोर्ट में सारण जिले में डेंगू बुखार से पीड़ित मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी देखी गई। सारण जिले के दिघवारा थानाध्यक्ष मिहिर कुमार को भी डेंगू बुखा’र की चपे’ट में आ गए। बता दें कि सरकार, राजधानी में जलजमाव से लोगों को हुए नुकसान की भरपाई करेगी। अर्बन फ्लड के लिए तय नियमों के अनुसार मुआवजा दिया जाएगा। राज्य में बाढ़, जलज’माव से हुई क्ष’ति का जायजा लेने आई केंद्रीय टीम ने पटना समेत अन्य पी’ड़ित जिलों को पूरी मदद का भरोसा दिया है।